प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दौरे को लेकर पटना में सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम किए गए हैं। पटना पुलिस के अलावा 1600 के करीब अधिकारियों व जवानों को प्रतिनियुक्त किया गया है। इसमें एसपी रैंक के अफसर से लेकर डीएसपी, इंस्पेक्टर, सब-इंस्पेक्टर, एएसआई और सिपाही-हवलदार शामिल हैं। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार की शाम 5 बजकर 20 मिनट पर विशेष विमान से पटना एयरपोर्ट पहुंचेंगे। 5.55 बजे एयरपोर्ट से प्रस्थान कर 6 बजे पीएम मोदी बिहार विधानसभा पहुंचेंगे। उनके कर कमलों से शताब्दी स्मृति स्तंभ का अनावरण होगा।

शाम 6.05 बजे पीएम मोदी शताब्दी स्मृति उद्यान का नामकरण करेंगे तथा यहां कल्पतरु का पौधा लगाएंगे। यह उद्यान 100 औषधीय पौधों से युक्त है। शाम 6 बजकर 9 मिनट पर पीएम विधानसभा संग्रहालय और अतिथिशाला का ऑनलाइन शिलान्यास करेंगे। इसके बाद मंचीय कार्यक्रम आरंभ हो जाएगा। मंच से बिहार और बिहार विधानमंडल के सदस्यों को संबोधित करने के बाद 7 बजकर 05 मिनट पर प्रधानमंत्री हवाई अड्डे के लिए निकल जाएंगे।

पीएम मोदी के पटना आगमन को लेकर ट्रैफिर रूट में बदलाव, इन मार्गों पर नहीं चलेंगी गाड़ियां

जानकारी के मुताबिक, पुलिस मुख्यालय द्वारा 4 एसपी और 6 डीएसपी रैंक के अफसरों को भी प्रधानमंत्री के दौरे के मद्देनजर पटना में प्रतिनियुक्त किया गया है। इसके अलावा करीब 100 कनीय पुलिस पदाधिकारी भी सुरक्षा के मद्देनजर पटना जिले को दिए गए हैं। पुलिस अधिकारियों के अतिरिक्त 1500 जवानों की प्रतिनयुक्ति की गई है।

प्रधानमंत्री के दौरे के मद्देनजर पटना जिला बल के अधिकारी और जवानों के अलावा यह प्रतिनियुक्ति की गई है। पुलिस मुख्यालय के सूत्रों के मुताबिक अतिरिक्त बल और पुलिस अधिकारी रविवार को ही पटना पुलिस को मुहैया करा दिए गए। प्रधानमंत्री के दौरे तक इनकी प्रतिनियुक्ति पटना जिले में बनी रहेगी। इसके बाद वह वापस अपनी तैनाती वाले स्थान पर आ जाएंगे।

विभिन्न स्तरों में होगी सुरक्षा व्यवस्था

प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम किए गए हैं। सुरक्षा को लेकर कई लेयर बनाये गये हैं। क्विक रिस्पांस टीम (क्यूआरटी) के साथ ही जगह-जगह नाकेबंदी रहेगी। कारकेड के गुजरने के रास्ते के अलावा विधान मंडल परिसर के ईद-गिर्द सुरक्षाकर्मियों की मजबूत घेराबंदी होगी।

अस्पतालों में अलर्ट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन को लेकर पटना के अस्पतालों को अलर्ट कर दिया गया है। सभी बड़े प्रमुख अस्पतालों में इमरजेंसी, आईसीयू और एंबुलेंस की व्यवस्था दुरुस्त कर दी गई है। साथ ही सीनियर डॉक्टरों के नेतृत्व में स्टैटिक टीम का भी गठन किया गया है। पटना के सिविल सर्जन डॉ. केके शर्मा ने बताया कि आईजीआईएमएस, पीएमसीएच और आईजीआईसी को अलर्ट मोड में रहने का निर्देश दिया गया है। सभी जगह डॉक्टरों की विशेष टीम और ब्लड को तैयार रखने को कहा गया है। पीएमसीएच के अधीक्षक डॉ. आईएस ठाकुर और इमरजेंसी प्रभारी डॉ. अभिजीत सिंह ने बताया कि चार बेडवाले आईसीयू को रिजर्व कर दिया गया है। सभी विभागाध्यक्षों के नेतृत्व में सीनियर डॉक्टरों की ड्यूटी इमरजेंसी में लगाई गई है। ऑपरेशन थियेटर को भी रिजर्व में रखा गया है।