बिहार में फिलहाल सीएनजी फ्यूल स्टेशनों की संख्या 17 है। बिहार राज्य में सीएनजी गाड़ियों की संख्या में वृद्धि को देखते हुए बिहार सरकार ने इसे जल्द से जल्द बढ़ाने का निर्णय लिया है। अगले दो माह में सीएनजी फिलिंग स्टेशनों की संख्या 17 से 38 करने के लिए निर्देश दिए गए हैं। इसका यह मतलब है कि दिसंबर तक पूरे बिहार में 21 नए सीएनजी फिलिंग स्टेशन बनाए जाएंगे। फिलहाल बिहार में पटना को छोड़कर गिने चुने जिले में ही सीएनजी फ्यूल स्टेशन है। इस को ध्यान में रखते हुए सरकार सीएनजी फिलिंग स्टेशनों की संख्या को बढ़ाने को लेकर काफी सजग है।

वर्तमान में पटना में सर्वाधिक 12 सीएनजी फिलिंग स्टेशन है। इसके अलावे बेगूसराय में 2, रोहतास में एक, नालंदा में एक, गया में एक सीएनजी फ्यूल स्टेशन है। दिसंबर तक जिन नए 21 सीएनजी फिलिंग स्टेशन को खोलने की योजना है, उसमें चार स्टेशन पटना जिले के बाढ़, घोसवरी, पंडारक और बख्तियारपुर मैं खोले जाएंगे। उसके अलावा शेष 17 स्टेशन संपूर्ण बिहार के विभिन्न जिलों में स्थापित की जाएगी।

इसी संदर्भ में बिहार राज्य के परिवहन सचिव संजय अग्रवाल ने विभिन्न एजेंसियों जैसे कि गेल, आईओसीएल, थिंक गैस आईओएजीपीएल सीएनजी प्रोवाइडर के साथ समीक्षा बैठक की और उन्हें विशेष निर्देश दिए। उन्होंने सभी एजेंसियों से कहा कि बिहार राज्य के विभिन्न शहरों में सीएनजी स्टेशन स्थापित करने कि काम में तेजी लाएं और यथाशीघ्र सारे स्टेशनों को चालू करने की कोशिश करें जिससे बिहार राज्य के सीएनजी गाड़ियों को सीएनजी भरवाने में दिक्कतों का सामना ना करना पड़े।