बिहार के सिवान जिले में दाहा नदी (Daha River In Siwan) पर बन रहे पुल के पिलर की खुदाई के दौरान नदी के लगभग 30 फिट नीचे से इंजीनियरों को 500 साल पुराना शिव लिंग मिला (Five Hundred Year Old Shiva Linga Found In Siwan) है. शिव लिंग मिलने के बाद इंजीनियर ने पास के मंदिर के पुजारी को बुलाकर जब शिव लिंग को दिखाया तो पुजारी हैरत में पड़ गए. उन्होंने बताया कि शिव लिंग काफी पुराना लग रहा है. इस घटना की जानकारी मिलने पर शिव लिंग के दर्शन के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी.

नदी से 30 फिट नीचे से मिला 500 साल पुराना अद्भुत शिव लिंग: बता दें कि, दाहा नदी पर एक नए पुल निर्माण का काम चल रहा है जिसकी अंतिम छोर की खुदाई चल रही है. जब लगभग 25 से 30 फिट तक खुदाई हो चुकी थी तभी वहां काम कर रहे इंजीनियर को कुछ पत्थर के आकार जैसा दिखाई पड़ा. जिसके बाद इंजीनियर ने पास के मां जानकी मंदिर के पुजारी को इसकी सूचना दी. जब पुजारी ने मौके पर पहुंचकर देखा तो वो हैरत में पड़ गए और बताया कि ये काफी पुराना शिव लिंग है. वहीं, शिव लिंग मिलने की सूचना मिलने पर आसपास के लोगों की भीड़ इकट्ठा होने लगी.

शिव लिंग का आकार और बनावट आज के जमाने से काफी अलग: वहीं, जानकर बताते हैं कि ऐसा अद्भुत शिव लिंग उन्होंने कभी नहीं देखा. मां जानकी मंदिर के पुजारी ने कहा कि उनके मित्र जो इंजीनियर के पद पर कई साल पहले रिटायर हो चुके हैं. उन्होंने न भी अपने 60 साल की नौकरी के दौरान ऐसा अद्भुत शिव लिंग नहीं देखा था. शिव लिंग देखने के बाद से ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि लगभग 500 साल पुराना शिव लिंग है. हालांकि, अभी इसकी जांच नहीं हो सकी है. फिलहाल इस अद्भत शिव लिंग को मंदिर में स्थापित कर दिया गया है. जिसको देखने के लिए दूर दूर से लोग आ रहे हैं.