पटना: आरजेडी के दावत-ए-इफ्तार (RJD Iftar Party) में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के शामिल (CM Nitish Kumar attending Iftar) होने के बाद राजनीतिक अटकलों का बाजार काफी गर्म हो गया है। कई सवाल खड़े हो गये हैं। आरजेडी के नेता अब तरह-तरह के दावे कर रहे हैं। उनका कहना है कि बीजेपी की नींद उड़ (RJD claims BJP in trouble) गयी है। आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव के एक बयान ने सियासत गरमा दी। उन्होंने साफ कहा कि सरकार बनाएंगे, खेल होगा, हमारी नीतीश जी से सीक्रेट बात हुई है। साथ ही तेज प्रताप ने यह भी कहा कि हमने नीतीश कुमार के लिए पहले नो एंट्री का बोर्ड लगा रखा था, लेकिन अब उन्हें हमने एंट्री दे दी है। अब वह आए हैं तो सरकार भी बनेगी।

जनता भी चाहती थी सत्ता परिवर्तन:

इसी बीच राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा है कि इफ्तार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहुंचे और इसको लेकर बीजेपी की नींद उड़ गई है। वैसे इस प्रकार के मौके पर राजनीति उचित नहीं है लेकिन इतना तो निश्चित है कि बिहार में खेला होगा, कब होगा, इन सब बातों को पर्दे में रहने दीजिए। जनता ने जिस तरह राजद को सबसे बड़ी पार्टी बनाई थी, जनता भी चाहती थी कि सत्ता परिवर्तन हो। वर्तमान में बीजेपी की नीति से जनता त्रस्त है। मंहगाई बेरोजगारी चरम पर है। ऐसे मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए बीजेपी कुछ से कुछ कर रही है।

झंडा लहराने से बेरोजगारी दूर होगी:

उन्होंने कहा कि बोचहां उपचुनाव की हार को छिपाने के लिए बीजेपी आज वीर कुंवर सिंह को याद करने के बहाने झंडा लहरायेगी। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भी रहेंगे। क्या झंडा लहराने से बेरोजगारी दूर होगी, गरीबों की भूख मिटेगी। ऐसा कुछ नहीं होने वाला है। जो माहौल बिहार में अभी बना है, इससे स्पष्ट है कि यहां कभी भी सत्ता परिवर्तन हो सकता है। इससे इंकार नहीं किया जा सकता है। उन्होंने दावा किया कि बहुत जल्द ही बिहार में बहुत कुछ देखने को मिलेगा।