पटना. बिहार में राजनीतिक भूचाल आने की आहट सुनाई देने लगी है. कांग्रेस के बाद अब प्रदेश की सत्‍तारूढ़ पार्टी JDU ने सांसदों और विधायकों को पटना तलब किया है. बताया जा रहा है कि मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार और जनता दल यूनाइटेड के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह मंगलवार को पार्टी के विधायकों ओर सांसदों के साथ बैठक हो सकती है. जेडीयू के विधायकों को निर्देश देते हुए कहा गया है कि वे सब सोमवार शाम तक पटना पहुंच जाएं. वहीं, पार्टी सांसदों को भी सोमवार शाम तक पटना पहुंचने को कहा गया है. इस बीच, जेडीयू के सांसद रामप्रीम मंडल ने बड़ा बयान दिया है. उन्‍होंने बताया कि वह 8 अगस्‍त को पटना पहुंच रहे हैं. हाथ में Turning Points किताब लिए रामप्रीत मंडल ने कहा कि हो सकता है कि उनके पटना पहुंचने से पहले ही कुछ हो जाए. जेडीयू सांसद ने आगे कहा कि मुख्‍यमंत्री जो भी कहेंगे वो मान्‍य होगा.

कांग्रेस विधायकों की बैठक

कांग्रेस में भी राजानीतिक गतिविधयां बढ़ गई हैं. पटना में कांग्रेस विधानमंडल दल की बैठक होने जा रही है. पार्टी के सभी विधायक इस बैठक में शिरकत करेंगे. कांग्रेस विधायक शकील अहमद खान ने बताया कि बैठक में बिहार की मौजूदा राजनीतिक हालात पर प्रमुख रूप से चर्चा होगी. विधानमंडल दल के नेता अमित शर्मा दोपहर बाद पटना पहुंच रहे हैं. उधर, कांग्रेस के प्रदेश अध्‍यक्ष मदन मोहन झा ने कहा कि आलाकमान के निर्देश के बाद पार्टी विधानमंडल के सदस्‍यों की बैठक बुलाई गई है.

आरजेडी के साथ है कांग्रेस

मदन मोहन झा ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि कांग्रेस आरजेडी के साथ है. उन्‍होंने बताया कि बिहार में सत्‍ता परिवर्तन पर कांग्रेस की नजर है. मदन मोहन झा ने स्‍पष्‍ट शब्‍दों में कहा कि पिछले एक साल से प्रदेश में सत्‍ता परिवर्तन की संभावनाएं दिख रही थीं. नीतीश कुमार और सोनिया गांधी के बीच कथित बातचीत को लेकर उन्‍होंने कहा कि दोनों नेताओं के बीच बातचीत अप्रत्‍याशित नहीं है.