पटनाः बीजेपी (BJP) को घेरने के लिए जेडीयू (JDU) ने अब यूपी सरकार (UP Government) का सहारा लेते हुए हमला किया है. जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह (Lalan Singh) ने सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) पर गुरुवार को ट्वीट कर हमला बोला. उन्होंने यूपी कैबिनेट (UP Cabinet) के मंत्री राकेश सचान (Minister Rakesh Sachan) को निशाने पर लिया और कहावत के जरिए बीजेपी पर निशाना साधा. ललन सिंह ने कहा कि सुशील कुमार मोदी सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) को चुनौती देने से पहले अपने गिरेबान में झांक लें.

‘नीतीश कुमार को ज्ञान देने की जरूरत नहीं’

ललन सिंह ने कहा- सुशील जी, उत्तर प्रदेश सरकार के कारनामों को देख लें. यूपी के मंत्री राकेश सचान को कितने साल की सजा हुई है? सजायाफ्ता होने के बाद भी मंत्री बने हैं कि नहीं? मंत्री राकेश सचान अदालत से सजा की कॉपी लेकर भाग गए. कुछ बोलने से पहले थोड़ी तो शर्मिंदगी का अहसास कीजिए. नीतीश कुमार को ज्ञान देने की जरूरत नहीं है. एक कहावत है, ‘चलनी दूसे सूप को जिसमें खुद बहत्तर छेद’.

‘चिंतन-मनन कीजिए, तब बोलिए’

सुशील कुमार मोदी को टैग करते हुए ललन सिंह ने आगे लिखा कि नैतिकता का पाठ पढ़ाने से पहले अपनी नैतिकता का भी आकलन कर लें. लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) का जवाब भी जनता आपसे जानना चाहती है. जरा मुंह तो खोलिए, कुछ तो बोलिए..! और जरा यह भी बताइए कि लखीमपुर खीरी की घटना पर सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) ने क्या-क्या टिप्पणियां की थी आपकी उत्तर प्रदेश सरकार (UP Government) पर. आत्ममंथन कीजिए, चिंतन-मनन कीजिए….. तब बोलिए.