पटनाः विकासशील इंसान पार्टी के प्रमुख और बिहार के पूर्व मंत्री मुकेश सहनी (Mukesh Sahani) चाहें तो वे आरजेडी (RJD) के साथ गठबंधन कर सकते हैं। इसको लेकर आरजेडी के वरिष्ठ नेता और लालू यादव (Lalu Yadav) के करीबी सहयोगी भोला यादव (Bhola Yadav) ने बड़ा बयान दिया है। भोला यादव ने कहा है कि मुकेश सहनी आरजेडी से गठबंधन करना चाहेंगे तो उस पर विचार किया जाएगा।

हालांकि गठबंधन को लेकर भोला यादव ने मुकेश सहनी के सामने शर्त रख दी है। शर्त ये है कि मुकेश सहनी को बिना किसी शर्त के साथ गठबंधन करना होगा। भोला यादव ने कहा कि मुकेश सहनी बिना शर्त अगर महागठबंधन में आना चाहेंगे तो हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू यादव इसपर विचार करेंगे। बिहार में अभी चुनाव नहीं है इसलिए किसी कंडीशन पर वह महागठबंधन में आना चाहेंगे तो उस पर विचार हम लोग नहीं करेंगे। बिहार में चुनावी अभी नहीं है इसलिए कंडीशन पर बात आगे बढ़ाना उचित नहीं रहेगा।

तीनों विधायकों के जाने के बाद अकेले पड़े हैं सहनी

बता दें मुकेश सहनी के तीनों विधायक बीजेपी में शामिल हो चुके हैं। उनको मंत्री पद से बर्खास्त किया जा चुका है। वह अब एनडीए का भी हिस्सा नहीं हैं। तीनों विधायकों के जाने के बाद मुकेश सहनी एक तरह से अकेले हो गए हैं। हाल ही में बोचहां विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में उनकी पार्टी को करीब 30 हजार वोट मिला था। यहां बीजेपी की हार हो गई थी। आरजेडी ने 36 हजार से ज्यादा वोटों से बीजेपी को हराया। मल्लाह नेता के रूप में सहनी खुद को स्थापित कर चुके हैं। मल्लाह बिहार में करीब 7-8 फीसदी हैं। बोचहां उपचुनाव में सहनी की ताकत को आरजेडी ने देख लिया है।

अब भोला यादव ने बयान देकर सहनी को संदेश देने की कोशिश की है कि साथ आना चाहेंगे तो आ सकते हैं लेकिन बिना किसी शर्त के आना होगा। सहनी का एमएलसी का कार्यकाल जून में समाप्त हो रहा है। ऐसे में उन्हें अपनी सियासत को जारी रखने के लिए एक ठिकाने की जरूरत पड़ सकती है।