बिहार हमेशा से विद्वानों की धरती रही है इसी बिहार के पटना की एक लड़की ने एक बड़ा करना मत किया है। इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, पटना की एक छात्रा को गूगल के द्वारा इस साल का सबसे बड़ा पैकेज दिया गया है। ‘दीक्षा बंसल’ इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी पटना की छात्र है जिन्हें गूगल ने 54.57 लाख का पैकेज दिया है। दरअसल आईआईटी पटना में इस बार गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, गोल्डमैन सहित लगभग 50 से अधिक बड़े-बड़े कंपनियां प्लेसमेंट के लिए आई थी। इस बार के सारे प्लेसमेंट पूरी तरह से वर्चुअल मोड में हुए।

इतना ही नहीं, M.tech के छात्र रंजीत को इंटेक्स की तरफ से 52.5 लाख का पैकेज मिला। इस तरह 223 छात्रों को इस वर्ष अलग-अलग प्रकार के मल्टीनेशनल कंपनियों ने कैंपस सिलेक्शन के जरिए सिलेक्ट किया गया। रिक्रूटमेंट प्रोसेस में इस वर्ष 50 से अधिक नई-नई कंपनियों ने भाग लिया है जो आईआईटी पटना की कारपोरेटस जगत में बढ़ती हुई साख को बताती है।

आपको यह जानकर बहुत खुशी होगी कि जहां एक तरफ 2016 से 17 के बीच B.tech के छात्रों की औसत सैलरी 9.3 लाख थी वहीं 2017 – 18 में यह बढ़कर 11.1 लाख , 2018-19 में 13.5 लाख, 2019-20 में 14.7 लाख थी, 2020-21 में 16.17 लाख हो गई है। M.tech की औसत सैलरी बताएं जाए तो 2018-19 में 9.95 लाख थी, 2019-20 में 12.7 लाख थी एवं 2020-21 में यह बढ़कर 12.11 लाख हो गई है। यह कैंपस सिलेक्शन उन सब लोगों के लिए तमाचा है जो बिहार के कॉलेज एवं यूनिवर्सिटी को फिसड्डी समझते हैं।