संघ लोक सेवा आयोग के सिविल सर्विस एग्जाम (UPSC Civil Service Exam) को सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक माना जाता है। जिसमे हर साल सैकड़ो लड़के-लड़कियां सिविल सर्विसेज में सफलता हासिल करते है। सबकी अपनी अपनी सफलता और संघर्ष की कहानी है। इन्हीं कहानियों में एक दिलचस्प और प्रोत्साहित करने वाली कहानी है दो आईएएस बहनों की। 

ये बहनें हैं अंकिता जैन और वैशाली जैन। अंकिता जैन ने परीक्षा में तीसरा स्थान हासिल किया। वहीं उनकी छोटी बहन वैशाली जैन ने 21वीं रैंक प्राप्त की। दोनों का सपना एक था, नोट्स एक थे और लक्ष्य पाने के बाद जीत भी एक साथ मिली। तो आइये जानते है इन दोनों बहनो के संघर्ष की कहानी। 

एक ही घर की दो बेटियां बनीं IAS!

सिविल सेवा परीक्षा 2020 के परिणाम आने के बाद टीना डाबी और रिया डाबी का नाम सुर्खियों में आया था। वजह थी टीना डाबी की तरह की उनकी बहन का भी आईएएस परीक्षा पास करना। लेकिन सिर्फ ये दो बहनें ही नहीं हैं, जिन्होंने सफलता की परिभाषा लिखी। यूपीएससी एग्जाम रिजल्ट में दो और बहनों के नाम एक साथ सामने आए। ये बहनें हैं अंकिता जैन और वैशाली जैन। 

बता दें कि वैशाली अंकिता कि छोटी बहन हैं और दोनों बहनों की इस सफलता के बाद एक ही घर में दो बेटियां आईएएस अफसर बन गई हैं। इन दोनों बहनों के बारे में खास बात ये है कि इन दोनों ने एक ही नोट्स से यूपीएससी एग्जाम की तैयारी की थी। दोनों बहनों ने एक दूसरे को प्रेरित किया और आगे बढ़ीं।  

दोनों की रैंक में भले ही थोड़ा बहुत अंतर हो लेकिन दोनों की मेहनत बराबर थी।  अंकिता जैन की मानें तो उन्होंने अपने चौथे प्रयास में यूपीएससी की सिविल सेवा परीक्षा में तीसरी रैंक पाई है। वो भी छोटी बहन वैशाली जैन की ओर से बनाए गए नोट्स से पढ़कर। 

दिल्ली के जैन परिवार से ताल्लुक रखती है दोनों बहने!

आपको बता दे, अंकिता जैन और वैशाली जैन के पिता सुशील जैन एक व्यवसायी हैं वहीं इनकी मां अनीता जैन एक गृहणी हैं। दोनों बहनों की इस सफलता में इनके माता पिता की अहम भूमिका रही है। अंकिता जैन ने अपनी 12वीं की पढ़ाई पूरी करने के बाद बीटेक की डिग्री प्राप्त की। बीटेक कंप्लीट करने के बाद उन्हें एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी मिल गई लेकिन उन्होंने नौकरी पर ध्यान देने की बजाए यूपीएससी एग्जाम की तैयारी करना सही समझा और इसमें पूरे मन से जुट गईं। 

अंकिता ने बताया कि इससे पहले वो तीन बार प्रयास कर चुकी थीं। मगर, पहली और तीसरी बार में रैंक नहीं आई थी। दूसरी बार में रैंक मिली थी तो उनका ऑडिट एंड अकाउंट सर्विसेज में चयन हो गया था। आपको बता दे, वर्तमान समय में अंकिता जैन ऑडिट एंड अकाउंट्स सर्विसेज मुंबई में तैनात है। और अब UPSC क्लियर कर बह IAS बन चुकी है। 

अंकिता के अनुसार, छोटी बहन ने इस दौरान बहुत सहयोग दिया। अंकिता जैन ने बताया कि उन्हें लग रहा था कि वह परीक्षा में अच्छा करेंगी, पर तीसरी रैंक आने की उम्मीद नहीं थी। वहीं, परिणाम आने के बाद बहन वैशाली जैन ने उन्हें बताया तो विश्वास नहीं हुआ। लगा कि परिणाम गलत है और बहन को यूपीएससी की वेबसाइट पर परिणाम देखने के लिए कहा। उस पर देखने के बाद ही तसल्ली हुई। 

आगरा में है ससुराल और पति है IPS अफसर!

आपको बता दे, अंकिता जैन आगरा के डिफेंस एस्टेट निवासी डॉ. राकेश त्यागी और डॉ. सविता त्यागी की पुत्रवधू हैं। उन्होंने बताया कि इस साल 7 जुलाई को उनकी बेटे की शादी मूलरूप से दिल्ली की रहने वाली अंकिता जैन से हुई थी। अभी अंकिता मुंबई में हैं। वहीं, उनके बेटे अभिनव त्यागी भी IPS हैं। वो भी महाराष्ट्र के गोंदिया में ASP के पद पर तैनात हैं। उन्हें खुशी है अब उनकी बहू IAS बन जाएगी।

इसीलिए उनके ससुर और सास अपनी बहू की उपलब्धि पर खुशी से फूले नहीं समा रहे हैं। उनके घर पर बधाई देने वालों का तांता लग गया था। वंही पूरे घर पर जश्न का माहौल बन गया था।