कोविड-19 के खिलाफ भारत की 100 करोड़ डोज पूरे करने की उपलब्धि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम संबोधन दिया। इस दौरान उन्होंने देशवासियों को धन्यवाद दिया। शुक्रवार को भारतवासियों से रूबरू हुए पीएम मोदी ने कृषि, अर्थव्यवस्था समेत कई मुद्दों का जिक्र किया। लेकिन इनमें सबसे खास रहा ‘वोकल फॉर लोकल का मुद्दा रहा पीएम ने कहा कि हमें उन चीजों को खरीदने पर जोर देना होगा, जिसका निर्माण भारतीय ने हो किया हो।

शुक्रवार को पीएम मोदी ने नागरिकों से देश में ही बनी चीजें खरीदने की अपील की। उन्होंने कहा, एक जमाना था जब मेड इन ये कंट्री, मेड इन वो कंट्री , इसी का बोलबाला था। बहुत क्रेज हुआ करता था। लेकिन आज हर देशवासी यह साक्षात अनुभव कर रहा है कि मेड इन इंडिया की ताकत बहुत बड़ी होती है। इसलिए आज मैं आपसे फिर यह कहूंगा कि हर छोटी से छोटी चीज , जो मेड इन इंडिया हो , जिसे बनाने में किसी भारतवासी का पसीना बहा हो, उसे खरीदने पर जोर देना चाहिए।

उन्होंने कहा, ‘और यह सभी के प्रयास से ही संभव होगा’। जैसे स्वच्छ भारत अभियान एक जन आंदोलन है, वैसे ही भारत में बनी चीज खरीदना, भारतीयों द्वारा बनाई चीज खरीदना, वोकल फॉर लोकल , यह हमें व्यवहार में लाना ही होगा। प्रधानमंत्री ने भरोसा जताया है कि हर भारतवासी के प्रयास से यह काम भी पूरा होगा।

भारत ने गुरुवार को हासिल किया था 100 करोड़ वैक्सीनेशन का आंकड़ा

प्रधानमंत्री मोदी ने कोविड-19 टीकाकरण के तहत गुरुवार को भारत के 100 करोड़ खुराक का आंकड़ा पार करने पर कहा था कि देश के पास पिछले 100 वर्ष की सबसे बड़ी वैश्विक महामारी का मुकाबला करने के लिए अब एक मजबूत ‘सुरक्षा कवच’ है।

Source: News18