बिहार में कोरोना काल (Corona Infection In Bihar) के समय एंबुलेंस के लिए लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा था. जिसके बाद सरकार ने दावा किया कि प्रदेश के सभी 534 प्रखंडों को 1-1 एडवांस लाइफ सपोर्ट सिस्टम वाला एंबुलेंस उपलब्ध कराया जाएगा. इसके साथ ही बेसिक लाइफ सपोर्ट सिस्टम वाले भी एंबुलेंस उपलब्ध कराए जाएंगे और कुल 1000 नई एंबुलेंस खरीदी जाएगी, जिसे 102 के माध्यम से संचालित किया जाएगा.

ऐसे में केंद्र के राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कार्यक्रम के तहत प्रदेश को 500 से अधिक एडवांस्ड और बेसिक लाइफ सपोर्ट सिस्टम से लैस एंबुलेंस उपलब्ध हो गए हैं. इन एंबुलेंस को पटना के वेटरनरी खेल मैदान में रखा गया है. इनमें एडवांस लाइफ सपोर्ट सिस्टम वाली एंबुलेंसों की संख्या सर्वाधिक है. वेटरनरी मैदान में मौजूद 500 से अधिक डायल 102 एंबुलेंस सेवा में नंबर प्लेट लगाने का काम किया जा रहा है और फोर्स कंपनी की एंबुलेंस गाड़ी है. एंबुलेंस चालक समय पर रोगियों को रेफर करने पर बड़े अस्पताल में पहुंचे इसकी निगरानी के लिए सभी एंबुलेंस में जीपीएस सिस्टम लगा हुआ है.

बताते चलें कि अभी प्रदेश में 1137 एंबुलेंस डायल हंड्रेड के माध्यम से अपनी सेवाएं दे रही हैं और इनमें से अधिकांश की हालत जर्जर हो चुकी है. स्वास्थ्य विभाग का लक्ष्य है कि डायल 102 में फोन करने के 20 मिनट बाद शहरी क्षेत्र में और 35 मिनट बाद ग्रामीण क्षेत्र में एंबुलेंस सुविधा लोगों को मुहैया कराई जा सके. स्वास्थ विभाग के सूत्रों से मिली जानकारी की माने तो जुलाई के दूसरे सप्ताह में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) वेटरनरी मैदान से सभी एंबुलेंस को प्रदेश के सभी जिला के प्रखंडों के लिए हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे.