पटना: उत्तर प्रदेश में फिर से बीजेपी ने बहुमत हासिल किया है। मुख्यमंत्री के तौर पर योगी आदित्यनाथ दूबारा शपथ ग्रहण करने वाले हैं। लखनऊ में 25 मार्च को योगी सीएम पद की शपथ लेंगे। योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ भाजपा-सहयोगी शासित राज्यों के मुख्यमंत्री-उप मुख्यमंत्री शामिल होंगे। सबसे खास बात तो यह कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी शपथग्रण समारोह में शिरकत करेंगे। और उनके साथ होंगे बिहार के दोनों उप मुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद और रेणु देवी।

योगी आदित्यनाथ 25 मार्च को लगातार दूसरी बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं। शपथ ग्रहण समारोह में बीजेपी के सभी दिग्गज शामिल होंगे। बिहार से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) के भी इस शपथ ग्रहण समारोह में शामिल (Nitish Kumar to attend Yogi Adityanath Oath Ceremony) होंगे। जानकारी के अनुसार नीतीश कुमार ने योगी के शपथ ग्रहण समारोह के लिए निमंत्रण स्वीकार कर लिया है। इसका जानकारी बिहार के डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद (Deputy CM Tarkishore Prasad) ने दी।

समारोह में शामिल होंगे CM नीतीश:

जेडीयू के नेताओं ने भी कहा है कि शुक्रवार को मुख्यमंत्री विशेष चार्टर विमान से उत्तर प्रदेश जाएंगे। मुख्यमंत्री के साथ जेडीयू के एक वरिष्ठ नेता भी जा सकते हैं। हाल में जेडीयू और बीजेपी के बीच कई मुद्दों पर खटपट देखने को मिली है। ऐसे में यदि मुख्यमंत्री शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होते हैं, तो बीजेपी के दिग्गज नेताओं से भी मुलाकात हो सकती है।

”सीएम नीतीश यूपी में योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे। तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह के लिए योगी आदित्यनाथ ने बिहार के मुख्यमंत्री और दोनों उप मुख्यमंत्री को आमंत्रित किया है, तो हम लोग मुख्यमंत्री के साथ शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेने जाएंगे। बीजेपी ने योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में यूपी में रिकॉर्ड बनाया है। वहां की जनता ने बीजेपी के कामकाज को सराहा है.”- तारकिशोर प्रसाद, डिप्टी सीएम, बिहार

BJP के वरिष्ठ नेताओं ने भेजा न्योता:

उत्तर प्रदेश में बीजेपी को फिर से बहुमत मिला है और लंबे अरसे बाद किसी सरकार की फिर से वापसी हो रही है। पांच राज्यों के चुनाव में से चार में बीजेपी की सरकार फिर से बन गई है, इसलिए बीजेपी खेमे में काफी उत्साह है। जानकारी के अनुसार नीतीश कुमार को बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं की तरफ से आमंत्रित किया गया है, इसलिए मुख्यमंत्री ना नहीं कह सके हैं।