बेगूसराय. बिहार के बेगूसराय में नेशनल हाईवे-28 पर चार थाना क्षेत्रों में बाइक सवार बदमाशों ने बछवाड़ा से लेकर चकिया तक करीब 30 किलोमीटर तक गोलीबारी की थी. मंगलवार शाम को अंजाम दिए गए इस खूनी खेल में एक युवक की मौत हो गई थी जबकि अन्य 10 लोग घायल हो गए थे. इस मामले ने बिहार पुलिस को कठघरे में खड़ा कर दिया था और इसपर सियासत भी शुरू हो गई. इस बीच पुलिस अंधेरे में तीर मार रही थी. मगर गुरुवार को पुलिस ने इस मामले में चारो आरोपियों को हिरासत में लिया है. सूत्रों के हवाले से इन सबके नाम भी सामने आ गए हैं, हालांकि पुलिस ने इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है.

बता दें कि बेगूसराय में एनएच पर ताबड़तोड़ गोली चला कर दस लोगों को घायल करने और एक की हत्या करने का आरोपी युवक झाझा रेलवे स्टेशन से  गिरफ्तार हुआ. गिरफ्तार युवक की पहचान बेगूसराय जिले के बीहट के केशव कुमार उर्फ नागा के रूप में हुई. आरोपी बीहट के ही राम विनय सिंह का पुत्र है.

मिली जानकारी के अनुसार, आरोपी युवक मौर्य एक्सप्रेस से रांची भाग रहा था जिसकी पुलिस को जानकारी मिल गई. झाझा स्टेशन पर मौर्य एक्सप्रेस के रुकते ही उसे चारों तरफ से घेर लिया गया और सर्च कर गोली चलाने वाले आरोपी केशव को गिरफ्तार कर लिया गया.

सूत्रों से यह भी जानकारी सामने आई है कि सबसे पहले सुमित और युवराज एसटीएफ और बेगूसराय पुलिस ने हिरासत में लिया. इसके बाद आरोपी केशव उर्फ नागा को जमुई के झाझा स्टेशन से, वहीं  चौथे आरोपी को बेगूसराय के साहेबपुर कमाल से गिरफ्तार किया गया.  बताया जा रहा है कि चौथा आरोपी अपने एक रिश्तेदार के घर जाकर छिप गया था. बेगूसराय पुलिस गिरफ्तार आरोपी को अपने साथ बेगूसराय पहुंची है. (इनपुट- संतोष कुमार)