बिहार में अग्निपथ योजना को लेकर लगातार हंगामा जारी है. इसी के साथ राज्य में उपद्रवियों के द्वारा भाजपा नेताओं को भी निशाना बनाया जा रहा है. इसी को देखते हुए केंद्र सरकार ने बिहार के दस भाजपा नेताओं की सुरक्षा को बढ़ा दिया है. यहां भाजपा के 10 नेताओं को सीआरपीएफ की वाइ श्रेणी (Y category) की सुरक्षा प्रदान की है.

नेताओं को सुरक्षा

जिन भाजपा नेताओं को सुरक्षा दी गई है उनमें भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल के अलावा दोनों उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी, विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल, विधायक संजय सरावगी और विधायक संजीव चौरसिया के नाम शामिल हैं. विधायकों ने प्रभात खबर से बातचीत में इस बात की पुष्टि भी की है. इन सभी नेताओं की सुरक्षा में सीआरपीएफ के 12 जवानों को लगाया गया है.

भाजपा को बनाया जा रहा था निशाना 

मालूम हो कि अग्निपथ योजना की लांचिंग के बाद से ही इसके विरोध में बिहार में जबरदस्त हंगामा हो रहा है. उपद्रवी तत्व भाजपा नेताओं के साथ ही भाजपा कार्यालयों को भी अपना निशाना बना रहे हैं. पिछले तीन चार दिनों में मधेपुरा, नवादा सहित कई जिलों में भाजपा कार्यालयों में तोड़फोड़ की गयी. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल और उप मुख्यमंत्री रेणु देवी के आवास पर हमला और आगजनी कर नुकसान पहुंचाया गया. भाजपा विधायक विनय बिहारी पर जानलेवा हमला किया गया.

क्या है वाइ श्रेणी सुरक्षा

यह सुरक्षा का तीसरा स्तर होता है. कम खतरे वाले लोगों को यह सुरक्षा दी जाती है. इस वाई प्लस सुरक्षा में 11 सुरक्षाकर्मी शामिल होते हैं. जिसमें दो कमांडो तैनात होते हैं शेष पुलिसकर्मी. जबकि वाई सुरक्षा कैटेगरी में 04-08 से सुरक्षाकर्मी 01-02 कमांडो के साथ मिलते हैं.