Patna. तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के बिहार दौरे पर सूबे की सियासत में हलचल है. विरोधी मोर्चे की गोलबंदी के तहत सीएम नीतीश कुमार से केसीआर की मुलाकात के बाद से ही भाजपा लगातार हमलावर है. इसी क्रम में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने केसीआर पर बड़ा हमला बोला है. गिरिराज सिंह ने कहा, ”केसीआर बिहार में नीतीश कुमार को सिखाने आए थे कि मैं तेलंगाना और हैदराबाद में सर तन से जुदा करने का आंदोलन करवा रहा हूं; आप भी पीएफआई युक्त बिहार और हिंदू मुक्त बिहार और भारत का अभियान छेड़िये. यही विपक्ष की एकता का मंच है.”

गिरिराज सिंह ने आगे कहा, ”तुष्टिकरण की राजनीति करना और हिंदू मुक्त भारत का अभियान नीतीश कुमार को सिखाने आए थे केसीआर. विपक्ष में लुकाछिपी का खेल चल रहा है.” गिरिराज सिंह ने तंज कसते हुए सवाल पूछा, ”प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार केसीआर होंगे या नीतीश कुमार, या फिर ममता बनर्जी कि राहुल गांधी? नीतीश कुमार के प्रेस कॉन्फ्रेंस में उठ जाने के सवाल पर गिरिराज सिंह ने तंज कसते हुए कहा, ”नीतीश कुमार समझते हैं कि केसीआर के मन में क्या चल रहा है?”

गिरिराज सिंह ने आगे कहा कि पूरे देश के अंदर एक माहौल चल रहा है. चाहे बिहार हो या हैदराबाद हो, मैंने कटाक्ष नहीं किया है; यह सच्चाई है. केसीआर और नीतीश कुमार राजनीति कर रहे हैं. विपक्ष में किसी व्यक्ति में ऐसी ताकत नहीं जो नरेन्द्र मोदी के खिलाफ अकेले चुनाव लड़े. अगर हिम्मत है तो प्रधानमंत्री का सीधा चुनाव कराए जाने की पहल हो, लेकिन ऐसा नहीं होगा क्योंकि एक व्यक्ति में ऐसी पर्सनालिटी नहीं दिख रही है. इधर का कुनबा उधर कुनबा लोगों को भ्रमित कर नया प्रयोग करने की कोशिश हो रही है.