राघव चड्ढा को राज्यसभा चुनाव में उम्मीदवार बनाकर आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने राजनीति पंडितों को भी चौंका दिया। इस ऐलान के चंद घंटों बाद ही राघव चड्ढा ने पंजाब से राज्यसभा प्रत्याशी के तौर पर सोमवार को नामांकन भी दाखिल कर दिया। पंजाब विधानसभा चुनाव 2022 में 117 सीटों में 92 सीट हासिल करने वाली आम आदमी पार्टी के सभी पांचों प्रत्याशियों (हरभजन सिंह, राघव चड्ढा, नरेश पटेल, संदीप पाठक और किश्लय शर्मा ) राज्यसभा चुनाव जीतना तय माना जा रहा है। बताया जा रहा है कि राघव चड्डा ने पंजाब चुनाव 2022 जिताने में अहम भूमिका निभाई। ऐसे में राघव चड्ढा को इसे इनाम के तौर पर दिया गया है। यह भी कहा जाता है कि राघव चड्ढा की बनाई रणनीति के जरिये ही आम आदमी पार्टी ने पंजाब चुनाव में ऐतिहासिक जीत हासिल की है। राघव चड्ढा के कहने पर ही भगवंत मान को पंजाब में सीएम प्रत्याशी घोषित किया गया और नतीजा यह हुआ कि पंजाब में AAP ने ऐतिहासिक जीत हासिल की।

सबसे कम उम्र के राज्यसभा सदस्य होंगे राघव चड्ढा

अरविंद केजरीवाल के करीबी नेताओं में शुमार राघव चड्डा राज्यसभा सदस्य चुने जाने के साथ ही एक नया इतिहास रचेंगे। ऐसा माना जाता है कि अमूमन राजनीतिक दल राज्यसभा सदस्य के लिए उन्हीं नेताओं को चुनाव लड़वाते हैं, जो बुजुर्ग होते हैं। वहीं, अरविंद केजरीवाल ने युवा राघव चड्डा पर दांव खेलकर परंपरा को ही तोड़ दिया। इस जीत के साथ ही राघव चड्डा सबसे कम उम्र के राज्यसभा सदस्य होंगे।   

राजनीति में धमक रखने वाले राघव पेशे से चार्टर्ड एकाउंट भी हैं

दिल्ली में 11 नवंबर 1988 को राघव चड्डा की प्राऱंभिक और उच्च शिक्षा दिल्ली से हुई है। राघव चड्ढा ने दिल्ली के माडर्न स्कूल से शिक्षा हासिल की, इसी स्कूल से बालीवुड के बादशाह शाहरुख खान ने भी पढ़ाई की है। इसके अलावा वह दिल्ली विश्विद्यालय से स्नातक भी हैं। पेशे से चार्टर्ड एकाउंट भी हैं। इसके अलावा, लंदन स्कूल आफ इकोनॉमिक्स से ईएमबीए सर्टिफिकेशन कोर्स भी किया है। 

अरविंद केजरीवाल के करीबी और भरोसेमंद हैं राघव चड्डा

फिलहाल राजेंद्र नगर सीट से आम आदमी पार्टी के विधायक राघव चड्ढा को दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल का बेहद करीबी माना जाता है। राघव चड्ढा को अरविंद केजरीवाल ने बिना झिझक राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाया। वह इकलौते राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं, जो नेशनल चैनलों पर आम आदमी पार्टी का जोरदार ढंग से पक्ष रखते हैं।

दक्षिण दिल्ली सीट से हार के बाद भी अरविंद केजरीवाल ने लगाया दांव

राघव चड्ढा 2019 के लोकसभा चुनाव में दक्षिण दिल्ली लोकसभा सीट से आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी के तौर पर लड़े।  उनके मुकाबले कांग्रेस से बाक्सर से नेता बने बिजेंदर सिंह थे तो भाजपा से रमेश विधूड़ी। यहां पर भाजपा प्रत्याशी रमेश विधूड़ी को राघव चड्डा ने कांग्रेस प्रत्याशी को पछाड़ते हुए जोरदार टक्कर दी। आखिर में हार का सामना करना पड़ा। दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में अरविंद केजरीवाल ने सिटिंग विधायक का टिकट काटकर राघव चड्डा को मैदान में उतारा, नतीजा राघव चड्ढा ने बड़े अंतर से  प्रतिद्वंद्वी भाजपा प्रत्याशी को हराया। अरविंद केजरीवाल ने राघव चड्ढा को दिल्ली जल बोर्ड का उपाध्यक्ष बनाया।