किसी भी परीक्षा में सफलता पाने के लिए आपका मेंटली मजबूत होना बेहद जरूरी होता है। अगर आप मेंटली मजबूत हैं, तो किसी भी लक्ष्य को आसानी से हासिल कर सकते हैं। ऐसी ही कहानी डॉक्टर से आईएएस अफसर बनने वाली अपाला मिश्रा (Apala Mishra) की है, जिन्होंने इस बात को ध्यान में रखते हुए सिविल सेवा की तैयारी की और ऑल इंडिया रैंक 9 हासिल कर अपना सपना पूरा कर लिया। आज आपको बताएंगे कि अपाला ने किस तरह यूपीएससी की तैयारी की और खुद को मेंटली मजबूत रखकर मंजिल हासिल कर ली।

पहले डेंटल सर्जरी की पढ़ाई की

अपाला यूपी के गाजियाबाद की रहने वाली हैं। उनके पिता आर्मी ऑफिसर और माता प्रोफ़ेसर हैं। उन्हें शुरू से घर में पढ़ाई और अनुशासन का माहौल मिला। वे पढ़ाई को लेकर काफी गंभीर रहीं और इंटरमीडिएट के बाद उन्होंने बैचलर ऑफ डेंटल सर्जरी (BDS) की डिग्री हासिल की। साल 2018 में पढ़ाई पूरी होने के बाद उन्होंने सिविल सेवा में जाने का मन बनाया। एक डॉक्टर से आईएएस बनने के लिए उन्होंने कड़ी मेहनत की।

सफलता के लिए अपनाई यह रणनीति

अपाला ने सबसे पहले यूपीएससी की तैयारी करने के लिए खुद को मेंटली प्रिपेयर किया। उनका मानना है कि हर उम्मीदवार को ऐसा करना चाहिए, जिससे लंबे समय तक खुद को मोटिवेट रखा जा सके। अपाला इसे तैयारी का एक अहम हिस्सा मानती हैं। अपाला कहती हैं कि सिलेबस के अनुसार स्टडी मैटेरियल इकट्ठा करें और स्ट्रेटजी बनाएं। इसके अलावा असफलताओं को स्वीकार कर नई चुनौती के लिए खुद को तैयार करना चाहिए। अगर आप सकारात्मक रवैया के साथ आगे बढ़ेंगे, तो निश्चित रूप से सफलता हासिल कर लेंगे।

यहां देखें अपाला का दिल्ली नॉलेज ट्रैक को दिया गया इंटरव्यू

अन्य उम्मीदवारों को अपाला की सलाह

अपाला मिश्रा के मुताबिक यूपीएससी की तैयारी कर रहे सभी उम्मीदवारों को अपनी क्षमताओं के अनुसार रणनीति बनाकर उस पर ईमानदारी से अमल करना चाहिए। हर दिन 7 से 8 घंटे पढ़ाई करना जरूरी होता है अगर आप यूपीएससी की तैयारी करना चाहते हैं, तो आपको लगातार बेहतर रणनीति के साथ आगे बढ़ना होगा। उनके मुताबिक कड़ी मेहनत, सही रणनीति, ज्यादा से ज्यादा रिवीजन, आंसर राइटिंग की प्रैक्टिस सफलता के लिए जरूरी होती है।

[DISCLAIMER: यह आर्टिकल कई वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है, Apna bihar अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है]