हैदराबाद :आंध्र प्रदेश और तेेलंगाना में नवरात्रि के अवसर पर माता के मंदिर को करोड़ों रुपयों के नोटों से सजाया गया। तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में नवरात्रि औऱ दुर्गा पूजा के अवसर पर माता के मंदिरों को भव्य तरीके से सजाया जाता है। दोनों राज्यों में कन्यका परमेश्वरी देवी माँ की भक्ति में लोग रुपये, सोना,चाँदी जैसे तरह की चीजें चढ़ावे के तौर पे देते है, नवरात्रि के अवसर पर इन रुपयों से मंदिर को आकर्षक रूप से सजाया गया।

इसी तरह आंध्र प्रदेश के नेल्लूर जिलें में भी कन्यका परमेश्वरी देवी मंदिर में नए नोटों और सोना, चाँदी से भव्य रूप से सजाया गया। नवरात्रि और दुर्गा पूजा के अवसर पर नेल्लूर शहर के स्टोन होउसपेटा इलाके में स्थित कन्यका परमेश्वरी देवी की मन्दिर में माता को धन्यलष्मी के रूप में सजाया गया। इस दौरान माता को और माता के मंदिर को चढ़ावे के रूप में मिले नए नोटों से सजाया गया।

इन नोटों की कीमत 5 करोड़ 16 लाख है, जिसमें 2000 , 500 ,200,100,50,10 रूपये के नोट शामिल हैं।इन नोटों से अलग अलग तरीके सुंदर फूल , तरह तरह के माला बनाये गए और माता को भव्य रूप से सजाया गया। नोटों से बनी इन सभी सजावटों को मंदिर की दीवारों पर लटकाया गया।

नोटों से की गई भव्य सजावट

मन्दिर में देवी की मूर्ति को और मंदिर की दीवारों को नए नोटों से सजाया गया। मंदिर की दीवार पर लटकते इन नए नए नोटों से मंदिर की छटा देखते ही बन रही है। कन्याका परमेश्वरी देवी मंदिरों की सजावट देखने आने वाले लोग इसकी भव्यता देखकर दंग हो रहे हैं। यहां मंदिर में हर साल लाखों रुपयों का चढ़ावा होता है और इन रुपयों से मंदिर को आकर्षक रूप से सजाया जाता है।

इसी तरह तेलंगाना के महबूबनगर जिले में कन्याका परमेश्वरी देवी की मंदिर में 4.44 करोड़ की कीमत के नोटों से सजाया गया। ऐसे ही जोगुलंबा गढ़वाल जिले में भी कन्याका परमेश्वरी देवी की मंदिर में 3. 51 रुपए की नई करेंसी से माता के मंदिर को सजाया गया।