पटना. बिहार में महागठबंधन की सरकार का आज विस्तार होना है. मंगलवार को नीतीश कुमार की कैबिनेट में और 31 चेहरे शामिल हो रहे हैं. कैबिनेट में  राजद, जेडीयू समेत कांग्रेस और हम को भी जगह मिल रही है. कैबिनेट के विस्तार में जहां जेडीयू ने अपने पुराने चेहरों पर ही भरोसा जताया है तो तेजस्वी यादव और कांग्रेस ने कई नये चेहरों को मौका देकर सभी को चौंका दिया है. न्यूज 18 आपको बता रहा है उन विधायकों के बारे में जो अब विधायक के साथ-साथ मंत्री भी बनने जा रहे हैं.

अनिता देवी– रोहतास के नोखा से विधायक हैं. तीसरी बार लगातार विधायक हैं. पूर्व की महागठबंधन की सरकार में भी मंत्री थीं.

आलोक कुमार मेहता- समस्तीपुर के उजियारपुर से तीसरा बार विधायक हैं. पूर्व मंत्री और पूर्व सांसद भी हैं. लालू- तेजस्वी के करीबी माने जाते हैं.

कुमार सर्वजीत– गया जिला के बोधगया से तीसरा बार विधायक हैं. तेजस्वी यादव के करीबी माने जाते हैं.

शाहनवाज– अररिया के जोकीहाट से पहली बार विधायक AIMIM से चुने गए. पाला बदलकर RJD में शामिल हुए. तेजस्वी यादव के करीबी हैं.

समीर कुमार महासेठ– मधुबनी से ये तीसरी बार विधायक हैं. लालू यादव और तेजस्वी के भी करीबी हैं.

चंद्रशेखर– मधेपुरा से चौथी बार विधायक बने हैं. लालू यादव के करीबी माने जाते हैं.

तेजप्रताप यादव– समस्तीपुर जिला के हसनपुर से वर्तमान विधायक हैं. दो बार विधायक रह चुके हैं. लालू यादव के बड़े बेटे हैं.

सुरेंद्र यादव– गया जिला के बेलागंज से RJD से छठी बार विधायक. लालू यादव के बेहद करीबी हैं.

कार्तिक सिंह– बाढ़ से पहली बार RJD से MLC बने हैं. अनंत सिंह और तेजस्वी यादव के करीबी हैं.

इसराइल मंसूरी –मुजफ्फरपुर के कांटी से विधायक हैं. पहली बार आरजेडी से विधायक बने हैं. तेजस्वी के करीबी हैं.

शमीम अहमद– अररिया के नरकटिया विधानसभा से विधायक हैं. तेजस्वी यादव के करीबी माने जाते हैं.

कांग्रेस के विधायक जो मंत्री बनेंगे

मो. अफाक आलम– पूर्णिया के कसबा विधानसभा क्षेत्र से विधायक. 4 बार लगातार विधायक.

मुरारी प्रसाद गौतम– सासाराम के चेनारी क्षेत्र से विधायक हैं. तीन बार विधायक रह चुके हैं. मीरा कुमार के करीबी माने जाते हैं.