पटना: लोजपा रामविलास के प्रवक्ता चंदन सिंह ने जेडीयू पर करारा प्रहार (LJP Ramvilas Chandan Singh attacked JDU) किया है। उन्होंने कहा कि जिस तरह के बयान जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह (JDU National President Lalan Singh) ने एक कार्यक्रम के दौरान दिया है, उससे स्पष्ट हो गया है वे बौखलाहट में हैं। भाजपा से उनकी पटरी नहीं बैठ रही है। उन्होंने कहा कि राज्य की जनता जानती है कि बिहार में जेडीयू तीसरे नंबर की पार्टी है। बीजेपी की कृपा के बगैर उनकी सरकार नहीं चल सकती है।

चंदन सिंह ने कहा कि इसके बावजूद ललन सिंह खुले मंच से कुछ से कुछ बयानबाजी कर रहे हैं। इसका मतलब स्पष्ट है कि बीजेपी और जेडीयू के बाद बीच कुछ ठीक-ठाक नहीं चल रहा है। उन्होंने साफ-साफ कहा कि बीजेपी और जदयू के नेता एक दूसरे को नीचे दिखाने की लगातार कोशिश कर रहे हैं। एक इसी कोशिश की एक कड़ी जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष के बयान में देखने को मिली। जेडीयू नेताओं में तिलमिलाहट है।

उन्होंने कहा कि हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान पहले ही कह चुके हैं कि राज्य में मध्यावधि चुनाव होना है। अब उसकी आहट देखने को मिल रही है। उन्होंने उपेंद्र कुशवाहा के जाति जनगणना वाले बयान पर भी तंज कसा और कहा कि केंद्र सरकार पहले ही स्पष्ट कर चुकी है कि देश में जातीय जनगणना नहीं होगी। राज्य सरकार अगर चाहे तो अपने खर्चे पर करा सकती है। ऐसे समय में उपेंद्र कुशवाहा पता नहीं क्यों जाति जनगणना को लेकर बयानबाजी कर रहे हैं।

उपेंद्र कुशवाहा के दल के नेता ही मुख्यमंत्री हैं. अगर वह चाहें तो अपने मुख्यमंत्री से कहकर बिहार में जातीय जनगणना करवा सकते हैं। इस मुद्दे पर बयान देने से क्या फायदा होने वाला है। उन्होंने स्पष्ट कहा कि बिहार की सरकार अब ज्यादा दिन तक चलने वाली नहीं है। चिराग पासवान ने सरकार बनते ही यह कह दिया था। अब जिस तरह की बयानबाजी बीजेपी और जेडीयू के बीच देखने को मिल रही है, उससे सब कुछ स्पष्ट हो गया है।