मधुबनी: साल 2022 में बीएसईबी की ओर से राज्य भर में आयोजित मैट्रिक की परीक्षा का गुरुवार बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने रिजल्ट जारी कर दिया है। इस बार कुल 79.88 प्रतिशत विद्यार्थी पास हुए हैं। इनमें से प्रदेश के मधुबनी जिले के विवेक कुमार ठाकुर ने 486 अंक लाकर टॉपरों की रेस में पुरुष वर्ग में बाजी मारी है। हालांकि, ओवरऑल रैंकिंग में उन्हें दूसरा स्थान मिला है।

गरीब किसान का बेटा है विवेक

वहीं, औरंगाबाद की रामायणी रॉय 500 में से 487 अंक (97.40%) हासिल कर ओवरऑल टॉपर बनीं हैं। इधर, नवादा की सानिया कुमारी ने भी 500 में से 486 अंक लाकर संयुक्त रूप से दूसरे टॉपर का स्थान सुरक्षित किया है।

मालूम हो कि इस बार परीक्षा में करीब 16.11 लाख विद्यार्थी शामिल हुए थे, जिनमें से मधुबनी के विवेक कुमार ठाकुर ने 486 अंक लाकर परिवार और जिले का नाम रौशन किया है। विवेक जिले के लदनियां प्रखंड के सिद्पा पंचायत के रहने वाला है। उसके पिता एक गरीब किसान हैं। खेती कर अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं।

खुद से पढ़ने की सलाह दी

अपनी सफलता का श्रेय विवेक ने अपने टीचर को दिया है। साथ ही विवेक ने बताया कि टीचर की गाइडेंस के अलावे सेल्फ स्टडी करके उसने सफलता हासिल की है। उसने अन्य विद्यार्थियों को भी खुद से पढ़ने की सलाह दी है। उसका कहना है कि खुद से पढ़ाई करना बहुत जरूरी है।

बता दें कि विवेक की इच्छा आगे की पढ़ाई जारी रखते हुए आईएएस बनने की है। वह अपने माता-पिता की चौथी संतान है। बड़ा भाई मजदूर है और पिता का सहयोगी बन बाहर ही रहता है। दो बड़ी बहन भी है, जो मां के साथ गृहस्थी संभालती है। उसकी इस सफलता से न सिर्फ उनके माता-पिता, परिजन व समाज बल्कि उनके गुरुजन व स्कूल परिवार गौरवान्वित है।

परीक्षा फल प्रकाशित होते ही उसके वनटोल स्थित घर पर बधाई देने के लिए लोगों की भीड़ लगनी शुरू हो गई। लोग उसके परिश्रम और परिवार के त्याग की सराहना करते दिखे।