नालंदा: देशभर में आज ईद-उल-अजहा यानी बकरीद का त्योहार (Eid Al Adha 2022) मनाया जा रहा है।बकरीद के मौके पर बिहार शरीफ की बड़ी दरगाह, जामा मस्जिद, बुखारी मस्जिद, समेत विभिन्न मस्जिदों और ईदगाह में नमाज अदा की गई। नमाज के बाद लोगों ने एक दूसरे के गले मिलकर बकरीद की ढेर सारी बधाई दी। इस मौके पर मखदूम साहब के गद्दीनशीन पीर साहब ने कहा कि हम आज के इस पाक मौके पर पूरे मुल्क के सलामती की अल्लाह से दुआ कर रहे हैं।

पीर साहब ने कहा कि जात, धर्म, बिरादरी से हटकर लोगों को मुल्क की तरक्की के बारे में सोचना चाहिए। जब हमारा देश तरक्की करेगा तभी हर लोगों का तरक्की होगा। आज के दिन सूफियों ने यही संदेश दिया था कि जो बेगुनाहों का कत्ल करता है वह पूरी दुनिया के इंसानियत का कत्ल करता है। जो भी गलत काम करता है, अल्लाह उसी से सबसे ज्यादा नफरत करते हैं। किसी के मजहब को भला बुरा नहीं कहना चाहिए। हमेशा अपनी भलाई छोड़ सभी लोगों की भलाई के बारे में सोचना चाहिए। बकरीद के मौके पर सभी मस्जिदों और ईदगाह में जिला प्रशासन द्वारा सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए थे…

‘जो बेगुनाहों का कत्ल करता है वह पूरी दुनिया के इंसानियत का कत्ल करता है। जो भी गलत काम करता है, अल्लाह उसी से सबसे ज्यादा नफरत करते हैं। किसी के मजहब को भला बुरा नहीं कहना चाहिए। हमेशा अपनी भलाई छोड़ सभी लोगों की भलाई के बारे में सोचना चाहिए’- पीर साहब, नालंदा