पर्यटन के क्षेत्र में बिहार तेजी से आगे बढ़ता दिखाई दे रहा है। यहां बड़ी संख्या में देशी-विदेशी पर्यटक विजिट करने लगे हैं। कोरोना की वजह से पर्यटकों की संख्या में गिरावट आई थी लेकिन अब फिर इसमें बढ़ोतरी देखी जा रही है।  पिछले साल की तुलना में इस साल पर्यटकों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। अब तक 27 लाख 78 हजार से अधिक देशी-विदेशी पर्यटकों ने बिहार का भ्रमण किया है।

राजगीर आ रहे सबसे ज्यादा पर्यटक

बिहार आने वाले पर्यटकों में सबसे ज्यादा पर्यटक राजगीर पहुंच रहे हैं। पर्यटन विभाग के अनुसार, जनवरी से जून 22 तक 27 लाख 70 हजार 446 भारत से तो 7590 विदेशी पर्यटकों ने बिहार के पर्यटन स्थलों का सैर की है। पर्यटकों के बीच सबसे लोकप्रिय राजगीर है। राजगीर में पांच लाख 92 हजार 528 देशी तो 1514 विदेशी पर्यटकों ने सैर किया है।दूसरे पायदान पर नालंदा है जहां पांच लाख 29 हजार 838 देशी तो 849 विदेशी पर्यटकों ने सैर किया।

बोधगया भी अच्छी संख्या में आ रहे हैं पर्यटक

तीसरे पायदान पर बोधगया है। बोधगया में दो लाख 88 हजार 158 देशी तो 2196 विदेशी पर्यटकों ने सैर किया। सबसे अधिक विदेशी बोधगया ही आए हैं। पटना चौथे पायदान पर है। पटना में सैर करने वाले देशी पर्यटकों की संख्या दो लाख 84 हजार 567 तो विदेशी पर्यटकों की संख्या 1681 है। गया में एक लाख 938 देशी तो 1275 विदेशी पर्यटकों ने सैर किया है।

इस साल रिकॉर्ड पर्यटक पहुंचेंगे बिहार

विभागीय अधिकारियों के अनुसार कोरोना के कारण बीते वर्ष में श्रावणी मेला का आयोजन नहीं हो सका था। इस बार सुल्तानगंज से देवघर बाबाधाम लाखों की संख्या में श्रद्धालु जा रहे हैं। ऐसे में पर्यटकों की संख्या में वृद्धि होना तय है। इसके अलावा सब कुछ ठीक रहा तो इस बार सोनपुर मेला का भी आयोजन होगा। उसमें भी देश-विदेश के लाखों पर्यटक आया करते हैं। इसके अलावा पितृपक्ष मेला का भी आयोजन होना है ऐसे में बिहार आने वाले पर्यटकों की संख्या बढ़ने की पूरी उम्मीद है।