प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड की बाबा नगरी देवघर में सौगातों की बारिश कर दी. देवघर एयरपोर्ट का उद्घाटन समेत 16 हजार करोड़ की योजनाओं का उन्होंने तोहफा दिया है. इसके साथ ही द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक बाबा बैद्यनाथ धाम में पूजा-अर्चना करने वाले देश के पहले प्रधानमंत्री होने का रिकॉर्ड भी उनके नाम दर्ज हो गया. आपको बता दें कि डॉ राजेंद्र प्रसाद ने राष्ट्रपति बनने के बाद 1952 में देवघर बाबा धाम में पूजा-अर्चना की थी.

मोदीमय हुआ देवघर

झारखंड का देवघर मंगलवार को मोदीमय हो गया. वायुसेना के विशेष विमान से वे सीधे झारखंड के देवघर एयरपोर्ट पहुंचे. यहां एयरपोर्ट का उद्घाटन करने समेत 16 हजार करोड़ की विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया. इसके बाद उन्होंने रोड शो किया. इस दौरान महिलाओं व युवाओं का उत्साह देखने लायक था. हर कोई उनकी एक झलक देखने को बेताब था.

आजादी के बाद पहले पीएम मोदी ने की है बाबा की पूजा

द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक देवघर का बाबा बैद्यनाथ धाम में पूजा करने वाले देश के पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बन गये हैं. देश के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद ने राष्ट्रपति बनने के बाद 1952 में देवघर के बाबा धाम में पूजा-अर्चना की थी.

आजादी से पहले गांधी जी ने की थी बाबा की पूजा

आजादी के पहले महात्मा गांधी का देवघर आगमन दो बार हुआ था. गांधी जी 1925 और 1934 में देवघर आये थे. अपनी दूसरी यात्रा के दौरान वह बाबा मंदिर गये थे. राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद पहली बार 1936 में बाबानगरी पधारे थे. डॉ राजेंद्र प्रसाद ने राष्ट्रपति बनने के बाद 1952 में देवघर में बाबा की पूजा-अर्चना की थी. प्रणब मुखर्जी तीन बार देवघर आये थे. इनमें दो बार राष्ट्रपति रहते उनका आगमन हुआ था. वर्तमान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी 01 मार्च 2020 को बाबा नगरी देवघर पधारे थे.