कोरोना संक्रमण के मामले के नियंत्रित होने के बाद सोमवार से कई प्रतिबंधों को खत्म कर दिया गया है। इसके तहत धर्मस्थलों को खोलने का भी निर्णय लिया गया है। सोमवार से पटना के सभी धर्मस्थल श्रद्धालुओं के लिए खुल जाएंगे। महीनों से श्रद्धालुओं के लिए बंद हनुमान मंदिर भक्तों के लिए खुल जाएगा। मंदिर प्रशासन की ओर से कोरोना नियमों का पूरा ध्यान रखने को कहा गया है।

भक्तों को मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। महावीर मंदिर न्यास के सचिव आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि मास्क पहनकर मंदिर आने की व्यवस्था कोरोना की पहली लहर से ही जारी है। भक्तों को सामाजिक दूरी बनाकर दर्शन-पूजन करने की अपील की गई है। सेंसर मशीन के जरिए चरणामृत देने की व्यवस्था की गई है। गर्भ गृह के समीप लगे सेंसरयुक्त मशीन के नीचे हाथ रखते ही भक्तों को चरणामृत मिल जाएगा। 

सुबह पांच से दर्शन होगा शुरू

सुबह पांच बजे मंदिर खुल जाएगा। आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि कई लोग बेवजह समय व्यतीत करने या किसी अन्य व्यक्तिगत कारण से मंदिर परिसर में घंटों बैठे रहते हैं। ऐसे लोगों से अपील की गई है कि मंदिर में दर्शन-पूजन करने के लिए ही आएं और जल्द निकल जाएं। प्रवेश द्वार, नैवेद्यम काउंटर और अन्य स्थानों पर सैनेटाइजर की व्यवस्था भी की गई है। भक्तों से अपने हाथों को सैनेटाइज करके प्रवेश करने की अपील की गई है।