पटना: बिहार की राजनीति में वीआईपी सुप्रीमो मुकेश सहनी (VIP Chief Mukesh Sahni) को लेकर लगातार बयानबाजी जारी है। एक तरफ बीजेपी सहनी से इस्तीफे की मांग कर रहा है तो वहीं दूसरी तरफ आरजेडी भी लगातार वीआईपी सुप्रीमो पर हमलावर है। गुरुवार को बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी (Rabri Devi Statement On Mukesh Sahni Issue) ने तो यहां तक कह दिया था कि जैसी करनी वैसी भरनी। वहीं एक बार फिर से सहनी प्रकरण पर राबड़ी देवी ने बड़ा बयान देते हुए साफ कर दिया है कि मुकेश सहनी को आरजेडी (Mukesh Sahni no entry in RJD) में नहीं बुलाया जाएगा।

बोलीं राबड़ी देवीमुकेश सहनी के लिए RJD के दरवाजे बंद:

पूर्व मुख्यमंत्री और विधान पार्षद राबड़ी देवी ने कहा है कि ‘आरजेडी में पहले से निषाद के बड़े नेता मौजूद हैं।मुकेश सहनी के लिए कोई जगह नहीं है। मुकेश सहनी की पार्टी को तोड़ा गया है तो मुकेश सहनी समझे। मुकेश सहनी कहां जा रहे थे उन्हें पहले सोचना चाहिए था। अपने मन से गए थे, अपना समझे। लालू प्रसाद यादव ने ही बोलने के लिए आवाज दिया था, अभी लालू जी याद आवs तारन।

राबड़ी देवी का बीजेपी पर हमला:

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ 25 मार्च (शुक्रवार) को लगातार दूसरी बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं। शपथ ग्रहण समारोह में बीजेपी के सभी दिग्गज शामिल होंगे। बिहार से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) भी इस शपथ ग्रहण समारोह में शामिल (Nitish Kumar to attend Yogi Adityanath Oath Ceremony) होंगे। नीतीश कुमार के योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में जाने के सवाल पर राबड़ी देवी ने कहा कि डबल इंजन की सरकार है तो क्यों नहीं जाएंगे। बीजेपी के सबसे बड़ी पार्टी विधानसभा में बनने पर राबड़ी देवी ने कहा पैसे के बल पर पार्टी को तोड़ते हैं।

महिलाओं की रक्षक होने का दावा करती है सरकार: राजधानी पटना के गांधी मैदान में आयोजित बिहार दिवस में शामिल होने वाले बच्चों की तबीयत (Children Sick In Bihar Diwas Program) खाना खाने के बाद अचानक बुधवार रात खराब हो गई।लगभग 150 बीमार बच्चों को फूड प्वाइजनिंग का शिकार (Children sick due to food poisoning) होने के बाद विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया था। इस पर भी राबड़ी देवी ने बिहार सरकार पर निशाना साधा। साथ ही उन्होंने आशा कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन पर कहा कि सरकार महिलाओं की रक्षक होने का दावा करती है। वहीं दूसरी ओर महिलाओं को अपने हक के लिए सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन करना पड़ रहा है।

यूपी चुनाव से बढ़ी बीजेपी-सहनी की दूरियां:

उत्तर प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव में वीआईपी चीफ मुकेश सहनी के इंट्री के साथ ही बीजेपी और मुकेश सहनी के बीच दूरियां बढ़ने लगी। बिहार के बोचहां विधानसभा सीट पर उपचुनाव को लेकर बीजेपी और वीआईपी की ओर से उम्मीदवार उतारने के बाद ये साफ हो गया कि दोनों पार्टी अब आमने-सामने है। इसी बीच बुधवार को वीआईपी के तीनों विधायकों ने बीजेपी का दामन थाम लिया। मुकेश सहनी अपनी नैया नहीं बचा पाये। जिसके बाद गुरुवार की सुबह उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। वहीं राबड़ी देवी भी मुकेश सहनी के साथ ही बीजेपी पर भी जमकर निशाना साध रही हैं।