पटना. बिहार विधानसभा के विशेष सत्र के दूसरे दिन विधान परिषद में सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच नोंकझोंक होती रही. विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष सम्राट चौधरी को बधाई दी तो साथ में तंज भी कसा. तेजस्वी यादव ने कहा कि सम्राट चौधरी हर दल में रहे हैं. पहले वो हमारे दल में थे अब बीजेपी में हैं. राबड़ी देवी जी के मंत्रिमंडल में भी आप मंत्री रहे, ऐसे में उम्मीद है कि नेता प्रतिपक्ष के रूप में आप बेहतर काम करेंगे. तेजस्वी यादव के इस बयान पर सम्राट चौधरी ने कड़ा विरोध जताया.

सम्राट चौधरी ने कहा कि आपका दल क्या होता है. कोई राजशाही व्यवस्था नहीं है. तेजस्वी जी आप गलतफहमी में ना रहें. सम्राट ने कहा कि हमलोग दूसरी पीढ़ी हैं जो नीतीश जी का दंश झेल रहे हैं. ये कब किसके साथ हो जायेंगे, किसी को नहीं पता. बिहार के मंत्री विजय चौधरी ने भी सम्राट चौधरी पर तंज कसते हुए कहा कि पहले एक दल में गए फिर दूसरे दल में और अब दलदल में गए हैं. सम्राट चौधरी ने इस पर पलटकर जवाब दिया और कहा कि आप चिंता ना करें 2024 और 2025 में इसी दलदल में कमल खिलेगा. इससे पहले विजय चौधरी ने सम्राट चौधरी को बधाई दी और कहा कि सम्राट चौधरी से कल मुलाकात हुई थी पर नेता प्रतिपक्ष की जानकारी नहीं थी.

विजय चौधरी ने कहा कि उस समय पार्टी ने घोषणा नहीं की थी शायद इसलिए उन्होंने नहीं बताया. विजय चौधरी ने कहा कि राष्ट्रीय पार्टी में कब किसका नाम कट जाए और जुट जाए, पता नहीं होता. सम्राट अब नेता प्रतिपक्ष हो गए है इसके लिए बधाई. इससे पहले विधान परिषद में विरोधी दल के नेता सम्राट चौधरी ने कहा कि सरकार को हर मुद्दे पर घेरने का काम विरोधी दल करेगा. बीजेपी के 23 सदस्य हैं और 2 निर्दलीय का समर्थन भी है. सम्राट ने कहा कि तेजस्वी यादव समाजवादी हैं तो उनको बताने की जरूरत है कि समाजवाद की राजनीति में उनके परिवार की क्या अहमियत और योगदान है.