पाकिस्‍तान की रहने वाली लड़की मीराब की कहानी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. दरअसल, मीराब रात में फास्‍ट फूड कंपनी KFC (Kentucky Fried Chicken) के लिए फूड डिलीवरी करती हैं और दिन में अपनी पढ़ाई.मीराब फैशन डिजाइनिंग में ग्रेजुएशन कर रही हैं. उनका लक्ष्य है- आने वाले कुछ सालों में अपना फैशन ब्रांड लॉन्‍च करना. मीराब के इस जज्‍बे की इंटरनेट पर यूजर्स जमकर तारीफ कर रहे हैं. 

मेहनतकश मीराब की कहानी लाहौर (पाकिस्‍तान) की रहने वाली फिजा इजाज ने लिंक्‍डइन पर पिछले सप्‍ताह शेयर की. फिजा यूनीलिवर में ‘ग्‍लोबल ब्रांड लीड’ के तौर पर कार्यरत हैं. फिजा ने अपने पोस्‍ट में बताया कि उनकी मीराब से बात हुई. उनके काम, बाइक राइडिंग स्किल और पसंद को लेकर उन्होंने मीराब से पूछा. 

फिजा के मुताबिक- उन्‍होंने KFC में खाना ऑर्डर किया था. ऑर्डर करने के बाद कॉल आया, आवाज महिला की थी. महिला ने कहा- मैं आपकी राइडर बोल रही हूं. आवाज सुनते ही फिजा काफी उत्‍सुक थीं. वह अपने दोस्‍तों के साथ बाहर आईं और अपने ऑर्डर का इंतजार करने लगी. इसी दौरान उनकी मीराब से लंबी बात हुई. 

फिजा के पोस्‍ट के मुताबिक- मीराब लाहौर के युहानाबाद इलाके की रहने वाली हैं. वो फैशन डिजायनिंग में ग्रेजुएशन कर रही हैं. KFC में नाइट ड्यूटी कर फूड डिलीवरी करती हैं. तीन साल तक मीराब राइडर के तौर पर काम करेंगी, ग्रेजुएशन करने के बाद वो अपना खुद का फैशन ब्रांड लॉन्‍च करने की तैयारी में हैं. 

फिजा ने अपने एडिटेड पोस्‍ट में बताया-मीराब की पढ़ाई का खर्चा एक संस्‍था उठाती है. लेकिन वो अपने परिवार का हाथ बंटाने के लिए और अन्य खर्च के लिए काम कर रही हैं. 

मीराब के जज्बे की कहानी जानकर लिंक्‍डइन पर कई यूजर्स उनकी तारीफ कर रहे हैं. KFC Pakistan की चीफ पीपल ऑफिसर असमा युसूफ का भी इस पोस्‍ट पर कमेंट आया. उन्‍होंने अपने पोस्‍ट में मीराब की कहानी बताने के लिए फिजा को शुक्रिया कहा. असमा ने कमेंट में लिखा कि उनकी पढ़ाई में मदद ‘KFC Female Higher Education Scholarship Program’ द्वारा की जा रही है. 

मीराब के जज्बे की कहानी जानकर लिंक्‍डइन पर कई यूजर्स उनकी तारीफ कर रहे हैं. KFC Pakistan की चीफ पीपल ऑफिसर असमा युसूफ का भी इस पोस्‍ट पर कमेंट आया. उन्‍होंने अपने पोस्‍ट में मीराब की कहानी बताने के लिए फिजा को शुक्रिया कहा. असमा ने कमेंट में लिखा कि उनकी पढ़ाई में मदद ‘KFC Female Higher Education Scholarship Program’ द्वारा की जा रही है. 

गोपी सिरनी नाम के शख्‍स ने लिखा कि मीराब की कहानी काफी प्रेरक है. इस कहानी ने काफी कुछ सिखाया है. वहीं एक और शख्‍स ने मीराब की तारीफ की. उन्‍होंने लिखा, ‘मैं आपकी बहादुरी की तारीफ करता हूं. आप ये काम कर खुद के साथ अपने से जुड़े लोगों की मदद कर रही हैं. आप समाज में सकारात्‍मकता भी फैला रही हैं.’