केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय का ठेठ देसी अंदाज सामने आया है. एक मई को मजदूर दिवस (Labor Day) के दिन नित्यानंद राय बिहार के वैशाली जिले के हाजीपुर (Hajipur) में अपने फार्म हाउस में गाय का दूध निकालते दिखे. जब भी वो बिहार आते हैं उनका ज्यादा वक्त हाजीपुर स्थित इसी फार्म हाउस पर गुजरता है. वो अक्सर यहां गो पालन और ऑर्गेनिक खेती के कार्यों में लगे रहते हैं. नित्यानंद राय का यह फार्म हाउस इन दिनों बीजेपी की गतिविधियों का केंद्र भी बना हुआ है. पिछले दिनों उनके इस फार्म हाउस पर बिहार सरकार में बीजेपी कोटे के मंत्रियों, सांसदों, विधायकों और पार्टी पदाधिकारियों-कार्यकर्ताओं का अहम ठिकाना बना रहा.

दरअसल भोजपुर जिले के जगदीशपुर में वीर कुंवर सिंह के विजयोत्सव की याद में आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंच से नित्यानंद राय की सराहना की थी. इस कार्यक्रम में काॅर्डिनेशन की अहम जिम्मेदारी नित्यानंद राय ने उठाई थी. कार्यक्रम के सफल आयोजन के बाद बिहार बीजेपी में नित्यानंद राय की भूमिका बढ़ गई है. इन दिनों राजनीतिक गलियारों में उनकी बैठकों की खासी चर्चा हो रही है. नित्यानंद राय से पहले आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव की ऐसी तस्वीरें काफी चर्चा का विषय बनती रही हैं.

बिहार बीजेपी के प्रवक्ता निखिल आनंद ने बताया कि नित्यानंद राय मूल रूप से खेतिहर, पशुपालक और गौ-पालक समाज से आते हैं. उन्होंने अपने खेत को फार्म हाउस का शक्ल दे दिया है जहां वो शौक से गाय दूहते हैं और टैक्टर चलाते नजर आते हैं. यही नहीं, केंद्रीय गृह राज्य मंत्री फलों और सब्जियों की आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल कर ऑर्गेनिक खेती करते हैं. बिहार में राजनीति सामाजिक समीकरण आधारित है. जहां राजनेता इशारों-इशारों में प्रतीकों का इस्तेमाल कर अपने वोटरों को संदेश देते रहते हैं. नित्यानंद राय जिस जाति से संबंध रखते हैं उसका बिहार की राजनीति में खास प्रभाव है.