बिहार में पटना समेत चार शहरों को स्मार्ट बनाने का जिम्मा आईआईटी पटना (IIT Patna) को सौपा गया है. जिसके बाद आईआईटी पटना के होनहार इंजीनियर अब इन शहरों की स्मार्ट बनाएंगे. आईआईटी इंजीनियर की टीम को इस प्रोजेक्ट से संबंधित सभी प्रकार जिम्मेदारी जैसे प्रोजेक्ट के मूल्यांकन से लेकर उसके निर्माण की गुणवत्ता को देखेगी.  स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में भागलपुर, बिहारशरीफ और मुजफ्फरपुर को चुना गया है.

इस प्रोजेक्ट के संबंध में आईआईटी पटना (IIT Patna) को थर्ड पार्टी असाइनमेंट दिया गया है. इसको लेकर MOU पर हस्ताक्षर किये जा चुके हैं. बताया जा रहा है कि राज्य को स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट बनाने के लिए काफी समय दिया गया था. जिसके साथ ही केंद्र ने स्मार्ट सीटी बनाने के लिए इस प्रोजेक्ट में दो साल और जोड़ दिए हैं. 

इस प्रोजेक्ट में सबसे ज्यादा फायदा भागलपुर को होने वाला है. बिहारशरीफ का काम बेहतर तरीके से चल रहा है .यहां पर लगभग 552करोड़ के कुल 28 प्रोजेक्ट बनाये गये हैं. इसके लिए 1520 करोड़ रुपये का टेंडर जारी किया गया था, जिसमें 28 प्रोजेक्ट तैयार होने हैं.

राज्य के विकास के लिए आईआईटी पटना (IIT Patna) के निदेशक प्रो. टीएन सिंह का कहना है कि हम हर स्तर पर मदद करेंगे और तय समय पर प्रोजेक्ट पूरा हो इसका भी पूरा प्रयास करेंगे. इस प्रोजेक्ट को लेकर पॉलिटेक्निक कॉलेजों में विशेष तरह की लैब बनाई जा रही हैं. इसके साथ ही ड्रोन तकनीक और रोबोटिक्स जैसी पढ़ाई के लिए बेहतर इन्फ्रास्टक्चर  बनाने से लेकर सभी शिक्षकों के साथ छात्रों को ट्रेनिंग में मदद की जा रही है. साथ ही साथ राज्य के विकास के लिए आईआईटी के इंजीनियर काफी मदद कर रहें हैं. इस प्रोजेक्ट को सफल बनाने में  आईआईटी के इंजीनियर लगे हुए हैं.