भोजपुर: उप मुख्यमंत्री सह स्वास्थ्य मंत्री तेजस्वी यादव ने बिहार के चिकित्सकों को चेतावनी भरे लहजे में कहा कि ये नीतीश की सरकार है, महागठबंधन की सरकार है. हमलोग का काम ही है पढ़ाई-दवाई-सुनवाई और कार्यवाही. अगर बिहार की जनता का इलाज समय पर नही होगा या लापरवाही बरती जायगी तो हम किसी को छोड़ने वाले नहीं है. तेजस्वी यादव शुक्रवार काे काेइलवर में मानसिक अस्पताल का उद्घाटन करने के दौरान सभा काे संबाेधित करते हुए ये चेतावनी दी.

जो बेइमानी करेगा उसको बख्शा नहीं जायगाः

तेजस्वी यादव ने कहा कि हम देखते हैं कि कोई कोई डॉक्टर कई सालों से गायब हैं. तो कहीं मरीजों का इलाज ठीक से नहीं होता और उनको पटना रेफर कर दिया जाता है. इसलिए हम डॉक्टरों से बोलना चाह रहे हैं कि आप इमानदारी से काम कीजिए सरकार को सहयोग कीजिए. हम आपको सम्मान देंगे और आगे बढ़ाएंगे. हर तरह से सहयोग भी करेंगे लेकिन अगर कोई इस सरकार में बेइमानी करेगा उसको बख्शा नहीं जायगा कार्यवाही निश्चित ही होगी.

मुख्यमंत्री ने सबसे पहले अस्पताल का निरीक्षण किया :

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज शुक्रवार काे कोइलवर में बने मानसिक अस्पताल का उद्घाटन किया (Nitish Kumar Inaugurate Mental Health Clinic). इस मौके पर उप मुख्यमंत्री सह स्वास्थ्य मंत्री तेजस्वी यादव और जनसंसाधन मंत्री संजय झा भी मौजूद रहे. काेइलवर मानसिक अस्पताल बिहार का पहला मानसिक अस्पताल है. झारखंड अलग हो जाने के बाद बिहार में एक भी मानसिक अस्पताल नहीं था. इसे 128 करोड़ रुपये की लागत से बनाया गया है, जहां 272 बेड उपलब्ध होंगे.

नीतीश ने तेजस्वी से कहा था, आप ध्यान रखिएगाः

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि यहां बिहार ही नहीं बल्कि पूरे देश के मरीजों का इलाज किया जायेगा. इस अस्पताल की जरूरत बिहार को बहुत सालों से थी. झारखंड अलग हो जाने की वजह से बिहार में एक भी मानसिक अस्पताल (Koilwar Mental Health Clinic)नहीं था. जिस वजह से यहां के मरीजों को रांची और अन्य शहरों में जाना पड़ता था. नीतीश कुमार ने सभा को संबोधित करते हुए तेजस्वी यादव से बोला था कि आप अपने विभाग पर नजर रखिएगा. कभी-कभी सुविधा देने के बाद भी अधिकारी अच्छे से काम नहीं करते हैं. इसलिए आप खुद इस अस्पताल पर नजर बनाए रखियेगा.