रामनवमी 2022(Ram navami) को लेकर शुक्रवार को पटना जिला पुलिस-प्रशासन के तमाम वरीय अधिकारी महावीर मंदिर(Patna mahavir mandir) पहुंचे और उन्होंने रामनवमी की प्रशासनिक तैयारियों की समीक्षा की. जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह ने दो वर्षों की कोरोना बंदी के बाद इस बार रामनवमी में अधिक भीड़ का आकलन करते हुए तैयारियों के निर्देश दिये.

मंदिर पहुंचने में भक्तों को कोई अवरोध नहीं होना चाहिए-SSP पटना

वरीय पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो ने कहा कि मंदिर पहुंचने में भक्तों को कोई अवरोध नहीं होना चाहिए. उन्होंने कोतवाली थाना प्रभारी को मंदिर प्रबंधन के साथ समन्वय कर पर्याप्त सुरक्षा बल तैनात करने के निर्देश दिये. महावीर मंदिर न्यास के सचिव आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि दो वर्षों के अवरोध के बाद हो रहे रामनवमी को लेकर महावीर मंदिर की ओर से कई प्रबंध किये जा रहे हैं.

16 बड़ी स्क्रीनों पर कर सकेंगे दर्शन :

आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि मंदिर के बाहर और वीर कुंवर सिंह पार्क तक के राम भक्त मार्ग तक कुल 16 बड़ी स्क्रीनों पर भक्त हनुमानजी और राम दरबार के दर्शन कर सकेंगे. वीर कुंवर सिंह पार्क से मंदिर तक के रास्ते में पुरुषों और महिलाओं की अलग-अलग कतार के लिए बैरिकेडिंग और पंडाल बनाये जायेंगे. भक्तों के लिए जगह-जगह पानी और शरबत उपलब्ध रहेंगे.

रात दो बजे खुल जायेंगे पट :

रामनवमी के दिन 10 अप्रैल की पूर्व रात्रि दो बजे ही महावीर मंदिर का पट खुल जायेगा. आरती के बाद पूर्व से लाइन में लग भक्त नैवेद्यम आदि प्रसाद चढ़ा सकेंगे. दोपहर 11:50 से 12:20 बजे तक भगवान राम का जन्मोत्सव होगा.

दो लाख से ज्यादा भक्तों के आने का अनुमान :

आचार्य कुणाल ने बताया कि रामनवमी के दिन अयोध्या के हनुमानगढ़ी मंदिर के बाद पटना के महावीर मंदिर में सर्वाधिक भक्त आते हैं. इस साल दो लाख से अधिक भक्तों के मंदिर आने का अनुमान है. यहां नगर आयुक्त अनिमेष कुमार पराशर, अपर नगर आयुक्त शीला ईरानी, सिटी एसपी मध्य अमरीश राहुल, ट्रैफिक एसपी अनिल कुमार, सदर अनमंडलाधिकारी नवीन कुमार, अपर जिला दंडाधिकारी विधि-व्यवस्था के के सिंह, सिटी मजिस्ट्रेट सुधीर कुमार आदि मौजूद थे.