बिहार से नेपाल तक ट्रेन यात्रा करने की चाहत रखने वालों के लिए एक अच्छी खबर है। जल्दी भारतीय रेल और नेपाल रेलवे की सहयोग से बिहार और नेपाल के बीच ट्रेन सेवा शुरू होने जा रही है। बताया जा रहा है कि जुलाई महीने के अंत तक इसे शुरू कर दिया जाएगा। रविवार को एनएफ रेलवे कटिहार मंडल के डीआरएम कर्नल एसके चौधरी ने अधिकारियों के साथ फारबिसगंज-सहरसा निर्माणाधीन रेलखंड व बथनाहा-विराटनगर इंडो नेपाल निर्माणाधीन रेलखंड का निरीक्षण किया। उन्होंने दोनों रेलखंडों पर जुलाई तक ट्रेनों के चलने की बात कही।

नेपाल क्षेत्र में बचा हुआ है कुछ काम

डीआरएम ने मीडिया से कहा कि आगामी जुलाई तक फारबिसगंज-सहरसा रेल लाइन सहित इंडो-नेपाल रेल प्रोजेक्ट के तहत बथनाहा से विराटनगर तक ट्रेनें चलने की पूरी संभावना है। डीआरएम ने कहा कि नेपाल में कुछ भूमि अधिग्रहण का मामला फंसा हुआ है लेकिन बथनाहा से नेपाल कस्टम यार्ड तक रेल लाइन बनकर तैयार है। इसकी कई बार जांच की जा चुकी है। जुलाई तक बथनाहा से नेपाल स्थित कस्टम यार्ड तक ट्रेनों को चलाई जाएगी। कहा कि निर्माणाधीन रेल खंड के काम में काफी तेजी लाया जा रहा है।

इस रूट पर अप्रैल महीने से शुरू होगा परिचालन

वहीं जयनगर से वाया जनकपुर नेपाल के कुर्था तक सवारी गाड़ी का परिचालन अप्रैल के प्रथम सप्ताह में प्रारंभ हो सकता है। आगामी दो अप्रैल से सवारी गाड़ी के परिचालन की संभावना व्यक्त की जा रही है। हालांकि, इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की जा सकी है। जानकारी के मुताबिक, नेपाल रेलवे की ओर से सरकार को दो अप्रैल से गाड़ी का परिचालन प्रारंभ करने को लेकर प्रस्ताव भेजा गया है।