बिहार वासियों को एक और तोफहा मिलने जा रहा है। ट्रेन पकड़ने के लिए पटना जंक्शन पहुंचने वाले लोगों को जाम से मुक्ति मिलने वाली है। बता दें कि पैदल चलने वालों के लिए अंडरग्राउंड रास्ता बनेगा। यह रास्ता बुद्ध स्मृति मल्टी पार्किंग से पटना जंक्शन तक अंडरग्राउंड रास्ता तैयार होगा। बिहार राज्य पुल निर्माण निगम की देखरेख में इस कार्य का निर्माण होना है। खबर के अनुसार इसके निर्माण के लिए टेंडर की प्रक्रिया शुरू हो गई है। छठ पूजा के बाद निगम बोर्ड की होने वाली बैठक में टेंडर प्रोसेस पर निर्णय लिए जाने की संभावना बताई जा रही है।

करीब 65 करोड़ की लागत

निगम के आधिकारिक सूत्र से यह जानकारी सामने आई कि बुद्ध स्मृति मल्टी पार्किंग के पास बनी सड़क के नीचे से खुदाई की जाएगी और फिर नीचे ही नीचे पटना जंक्शन परिसर तक रास्ता बनाया जाएगा। इपीसी मोड़ में बनने वाला अंडरग्राउंड रास्ता 410 मीटर लंबा बनाया जाएगा। इसके निर्माण पर लगभग ₹65 खर्च का अनुमान।

पुल निर्माण निगम के सूत्र से मिली जानकारी के अनुसार, बुद्ध स्मृति मल्टी पार्किंग से पटना जंक्शन तक अंडरग्राउंड रास्ता स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत बनाया जाएगा। नगर विकास व आवास विभाग से इसकी सहमति मिल चुकी है। अंडरग्राउंड रास्ता तैयार करने के लिए मल्टीपार्किंग के पास से 8 मीटर नीचे खुदाई शुरू होगी। बता दें कि यह रास्ता पैदल यात्रियों के लिए होगा। इसके अलावा ट्रैवलेटर भी लगाए जाने की योजना है, जिस पर केवल खड़े होकर आगे निकला जा सकेगा।

पटना जंक्शन फ्लाईओवर से बुद्ध स्मृति पार्क के ऑटो स्टैंड को जोड़े जाने के लिए एलिवेटेड रोड का निर्माण किया जाएगा। ऑटो स्टैंड के तीसरे व चौथे मंजिल पर वाहनों की पार्किंग के लिए लोग सीधे पहुंच कर इसका उपयोग करेंगे। एलिवेटेड रोड के निर्माण में लगभग ₹15 करोड़ रुपये के खर्च का अनुमान लगाया गया है। बुद्ध मार्ग की तरफ से आने वाले पटना जंक्शन फ्लाईओवर से सीधे ऑटो स्टैंड पहुंच जाएंगे।

जाम की समस्या से मिलेगी मुक्ति

बुद्ध स्मृति मल्टी पार्किंग का निर्माण वाहनों की पार्किंग के लिए किया गया था, लेकिन फिर भी उसका सही तरीके इस्तेमाल नहीं हुआ। अधिकांश ऑटो वाले बाहर में ही सवारी बैठा रहे होते हैं। इससे मल्टी पार्किंग में हर समय जाम लगा रहता है। सड़क किनारे ठेला लगाकर कारोबार करने वालों से भी सड़क का स्पेस कम हो जाता है। इन सब के कारण ट्रेन पकड़ने के लिए स्टेशन पहुंचने वाले को खासकर शाम में काफी परेशानी होती है। अंडरग्राउंड रास्ता से आने-जाने में सुविधा होगी।