अगर भारतीय जनता पार्टी (BJP) यह सोचती है कि 2025 के बिहार विधानसभा चुनाव से पहले ही वह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को हटाकर अपने नेता को बिहार में मुख्यमंत्री बनाएगी, तो ऐसा कुछ होने वाला नहीं है। कम से कम जनता दल यूनाइटेड (JDU) संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा तो ऐसा मानते हैं।

जेडीयू नेता उपेंद्र कुशवाहा का कहना है कि जब तक बिहार में बीजेपी और जनता दल यूनाइटेड गठबंधन में रहेगी, तब तक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ही बने रहेंगे। दरअसल, कुशवाहा का बयान बीजेपी नेताओं के उन बयानों के जवाब में आया, जहां पर कुछ नेताओं ने राज्य में बीजेपी का मुख्यमंत्री बनाने की बात कही थी।

उपेंद्र कुशवाहा ने साफ किया, ”जो भी बीजेपी के नेता इस तरीके की बात कर रहे हैं और उन्हें कोई कंफ्यूजन है तो उन्हें अपने केंद्रीय नेतृत्व से बात कर लेना चाहिए, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा शामिल हैं। सब लोगों ने मिलकर तय किया है कि बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के नेता नीतीश कुमार हैं। जब तक बिहार में बीजेपी और जनता दल यूनाइटेड गठबंधन में है, तब तक नीतीश कुमार ही एनडीए के नेता हैं, मुख्यमंत्री हैं और रहेंगे।” 

उधर, कुशवाहा ने मांग की है कि जो भी बीजेपी के नेता कहते हैं कि नीतीश कुमार में 2005 जैसी बात नहीं रही और वह कमजोर मुख्यमंत्री हो गए हैं, तो ऐसे नेताओं के खिलाफ केंद्रीय बीजेपी को कार्रवाई करनी चाहिए।