बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा से जुड़ी इस वक्त की बड़ी खबर सामने आ रही है। विधानसभा के स्पीकर विजय कुमार सिन्हा को हटाने की कवायद शुरू हो गई है। विजय कुमार सिन्हा के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी कल ही शुरू हो गई थी। स्पीकर विजय कुमार सिन्हा के खिलाफ विधानसभा सचिव को महागठबंधन की ओर से अविश्वास प्रस्वाव दे दिया गया है। सदन में जैसे ही बैठक होगी स्पीकर विजय कुमार सिन्हा को अविश्वास प्रस्ताव का सामना करना पड़ेगा।

महागठबंधन की तरफ से लाए गए इस अविश्वास प्रस्ताव का सामना विजय कुमार सिन्हा को करना होगा। अगर उनके पास संख्या बल होगा वो सदन में वोटिंग के लिए जाएंगे और अगर संख्या बल नहीं होगा तो विजय सिन्हा पद को छोड़ देंगे। आरजेडी के मुख्य सचेतक ललित यादव समेत सत्ता पक्ष के अन्य नेताओं ने विधानसभा सचिवालय को 50 से अधिक विधायकों का हस्ताक्षर किया हुआ अविश्वास प्रस्ताव दे दिया है।

बता दें कि नई सरकार में विधानसभा अध्यक्ष के तौर पर आरजेडी के वरिष्ठ नेता अवध बिहारी चौधरी का नाम सामने आ रहा है। दरअसल, आरजेडी के पाले में इस बार स्पीकर की कुर्सी जा रही है। लालू और तेजस्वी नीतीश कुमार को फुल हैंड नहीं देना चाह रहे थे इसलिए स्पीकर की कुर्सी पर अपना दावा रखा और यही वह करार था जिसके तहत तेजस्वी यादव डिप्टी सीएम बनने को तैयार हुए।