मोतिहारी: बिहार विधान परिषद के स्थानीय प्राधिकार चुनाव (Bihar MLC Election) को लेकर राजनीति सरगर्मी काफी बढ़ी हुई है। राजनीतिक दलों में जमकर तीखी बयानबाजी भी हो रही है। इसी बीच बिहार सरकार के मंत्री और एनडीए के घटक दल विकासशील इंसान पार्टी के सुप्रीमो मुकेश सहनी (VIP Supremo Mukesh Sahni) भाजपा के खिलाफ अब खुलकर मैदान में आ गए हैं। एमएलसी चुनाव में अपने प्रत्याशी उतारकर उन्होंने अपना इरादा पहले ही साफ कर दिया था। अब वे खुलकर बोलने लगे हैं।

साथ थे, तब तक अच्छे थे:

वीआईपी सुप्रीमो मुकेश सहनी ने पूर्वी चंपारण जिला में एनडीए समर्थित विधान परिषद उम्मीदवार के खिलाफ निर्दलीय प्रत्याशी महेश्वर सिंह को समर्थन देने की घोषणा करके अपनी मंशा स्पष्ट कर दी है। मोतिहारी पहुंचे मुकेश सहनी ने संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर अपनी पार्टी की स्थिति स्पष्ट कर दी। वीआईपी विधायकों के भाजपा में शामिल होने और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल द्वारा मत्स्य मंत्रालय के कार्यकलाप पर सवाल उठाये जाने पर मुकेश सहनी ने कहा कि जब तक हम उनके साथ थे, तब तक अच्छे थे, आज रावण हो गए हैं।

निर्दलीय को समर्थन:

पत्रकारों से बात करते हुए वीआईपी सुप्रीमो मुकेश सहनी ने कहा कि एमएलसी चुनाव में पूर्वी चंपारण जिला से चुनाव लड़ रहे निर्दलीय प्रत्याशी महेश्वर सिंह को वीआईपी समेत कांग्रेस, जाप और बसपा समर्थन दे रही है। राज्य की सात सीटों पर वीआईपी ने अपना उम्मीदवार उतारा है। पूर्वी चंपारण और सीवान में निर्दलीय प्रत्याशी को वीआईपी अपना समर्थन दे रही है। उन्होंने महेश्वर सिंह की जीत का दावा किया।

4 अप्रैल को मतदान:

बता दें कि बिहार में 24 सीटों पर एमएलसी का चुनाव हो रहा है। इसके लिए 4 अप्रैल को सुबह 8 बजे से शाम 4 बजे तक मतदान होगा। 7 अप्रैल को मतगणना होगी। इस चुनाव को लेकर विभिन्न राजनीतिक दल और उनके गठबंधन सहयोगी अपने उम्मीदवारों के पक्ष में मतदाताओं को गोलबंद करने की कोशिश कर रहे हैं। इस बीच वीआईपी सुप्रीमो मुकेश सहनी ने पूर्वी चंपारण जिला से निर्दलीय प्रत्याशी महेश्वर सिंह को अपनी पार्टी का समर्थन देकर एनडीए गठबंधन के नेताओं को अपनी मंशा बता दी है।