प्रदेश में 24 घंटों के दौरान उत्तर पूर्व भाग में एक-दो स्थानों पर हल्की और मध्यम स्तर की वर्षा दर्ज की गई।जिन स्थानों पर बारिश हुई उनमें प्रमुख रूप से किशनगंज और अररिया का कुछ स्थान रहा। बारिश से इन इलाकों में मौसम बदला-बदला सा दिखा। फारबिसगंज में सबसे कम न्यूनतम तापमान 18.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

बिहार के औसत तापमान की बात करें तो यह 21 से 23 डिग्री सेल्सियस के बीच रहा। बिहार में सबसे अधिक तापमान डेहरी ऑन सोन में 39.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। पूरे बिहार में अधिकतम तापमान 35 से 37 डिग्री के बीच में रहा। किशनगंज और अररिया के क्षेत्र में ठाकुरगंज में 17.2 मिलीमीटर, किशनगंज में 16.8, गलगलिया में 15.2 मिलीमीटर, गौनाहा में 11.4 मिलीमीटर, सिकटी में 6.4 मिलीमीटर, बहादुरगंज में 5.0 मिलीमीटर और फारबिसगंज में 4.5 मिलीमीटर की बारिश हुई। इसके अलावा प्रदेश का शेष भाग शुष्क रहा।

हल्की बारिश या बूंदाबांदी की संभावना

पूरे प्रदेश में पूर्वी एवं दक्षिण पूर्वी हवा का प्रवाह सतह से 0.9 किलोमीटर ऊपर तक बना हुआ है। केवल प्रदेश के दक्षिण पश्चिम भागों में पछुआ एवं उत्तर पछुआ हवा का प्रवाह सतह से 1.5 किलोमीटर ऊपर तक बना हुआ है। मौसमी कारकों से बिहार के उत्तर पूर्वी इलाके के एक दो स्थानों पर अगले दो दिनों तक आंशिक बादल छाने के साथ-साथ हल्की बारिश या बूंदाबांदी होने की संभावना है। इसके अलावा बाकी हिस्सों में मौसम शुष्क बना रहेगा।

दक्षिण पश्चिम भागों में नमीयुक्त पूर्वी हवा एवं पश्चिमी हवा का मिलन क्षेत्र बना हुआ है। प्रतिलोम परत होने से आंशिक बादल के साथ-साथ कोहरे जैसी स्थिति देखी जा सकती है। सात अप्रैल 2022 तक मौसम शुष्क बना रहेगा। अगले चार दिनों के तापमान में कोई खास परिवर्तन नहीं होगा।