(Mosquirix) दुनिया की पहली वैक्सीन है जो मलेरिया के प्रमुख प्रजाति (Plasmodium falciparum ) को रोकने में सक्षम है। बुधवार (6 अक्टूबर ) को WHO ने इसकी सिफारिश करते हुए हमे ये बताया की इस वैक्सीन को Ghana, Kenya और Malawi के 8,00,000 से ज्यादा बच्चों में टेस्ट करने पे इसे सक्षम पाया है। यह वैक्सीन दुनिया की सबसे जानलेवा मलेरिया की प्रजाति (Plasmodium falciparum ) पे बहुत कारगर है।

डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक डॉ Tedros Adhanom Ghebreyesus ने कहा – “यह एक ऐतिहासिक क्षण है। बच्चों के लिए लंबे समय से प्रतीक्षित मलेरिया वैक्सीन विज्ञान, बाल स्वास्थ्य और मलेरिया नियंत्रण के लिए एक सफलता है, मलेरिया को रोकने के लिए मौजूदा उपकरणों के साथ साथ इस टीके का उपयोग करने से हर साल हजारों युवाओं की जान बचाई जा सकती है।”

Plasmodium falciparum

आपको बता दें की भारत में लगभग 40 से 60 प्रतिशत मामला मलेरिया की प्रजाति (Plasmodium falciparum ) से फैलता है। ऐसे में यह वैक्सीन भारत में भी कारगर साबित हो सकती है। भारत के बाकी मलेरिया के मामले (P. vivax) प्रजाति के द्वारा फैलाये जाते हैं। ऐसे में ये देखना एहम होगा के क्या ये वैक्सीन P. vivax पर भी उतनी ही कारगर होगी या नहीं।